डेनिल मेदवेदेव ने जीता शंघाई मास्टर्स का खिताब

08:05 PM Oct 13, 2019 |

शंघाई (उत्तम हिन्दू न्यूज): तीसरी वरीयता प्राप्त रूस के डेनिल मेदवेदेव ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुये पांचवी सीड जर्मनी के अलेक्सेंडर ज्वेरेव को शंघाई मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में रविवार को एकतरफा अंदाज में हराकर खिताब अपने नाम किया।

डेनिल ने बेहद आसानी से ज्वेरेव को 6-4, 6-1 से मात देते हुए अपना दूसरा एटीपी खिताब जीता। डेनिल ने पहली बार ज्वेरेव को हराया है। इससे पहले दोनों खिलाड़ियों का चार बार आमना-सामना हो चुका था लेकिन डेनिल पिछले चारों मुकाबले हार गए थे।

23 वर्षीय युवा खिलाड़ी ने वर्ष 2019 में अब तक 59 मुकाबले जीते है और शंघाई मास्टर्स उनका लगातार छठा फ़ाइनल मुकाबला रहा। इससे पहले डेनिल सिनसिनाटी और सेंट पीटर्सबर्ग टूर्नामेंट भी जीत चुके है तथा उन्होंने यूएस ओपन में फाइनल में जगह बनाई थी।

डेनिल ने शुरुआत से ही मैच पर अपनी पकड़ बनाये रखी और पहले सेट के शुरू में ही 2-0 से बढ़त ले ली। ज्वेरेव ने पहले सेट में डेनिल को बराबर टक्कर दी लेकिन 10वें गेम में दो डबल फाल्ट कर उन्होंने डेनिल को मौका दे दिया और रूसी खिलाड़ी ने पहला सेट 6-4 से जीत लिया। दूसरे सेट में भी डेनिल ने शुरू से ही बढ़त बनाए रखी और सेट को बड़ी आसानी से 6-1 से जीत कर शंघाई मास्टर्स का खिताब अपने नाम किया।

इस बार टूर्नामेंट की विशेष बात यह रही कि अंतिम चार में पहुंचने वाले सभी खिलाड़ी युवा थे और नब्बे के दशक में जन्मे थे। ऐसा एटीपी टूर के इतिहास में पहली बार हुआ है।