उन्नाव में रेलवे ट्रैक पर मिला पत्रकार का शव 

उन्नाव (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के उन्नाव में हिंदी दैनिक के एक पत्रकार का शव रेलवे ट्रैक पर मिला । परिवार वालों ने एक महिला दरोगा,सिपाही तथा एक अन्य अज्ञात के खिलाफ प्राथमीकि दर्ज कराई है।

एक हिंदी दैनिक के पत्रकार का शव रेलवे ट्रैक पर बीती रात मिलने के बाद से ही मामले के संदिन्ध होने की चर्चाएं थी। देर रात पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने एक महिला दरोगा के साथ ही विभाग के ही एक सिपाही व एक अन्य अज्ञात को नामजद करते हुये प्राथमिकी दर्ज कराई है। मृत पत्रकार की माँ की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी में हत्या का आरोप लगाते हुवे शव को रेलवे ट्रैक पर फेंकने की बात कही गई है।

पुलिस ने आज यहां कहा कि पत्रकार सूरज पाण्डेय का शव रेलवे ट्रैक पर सदर कोतवाली इलाके में शराब मिल के पास बीती रात मिला था। पोस्टमार्टम कराया गया है। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाते हुये महिला दरोगा सुनीता चौरसिया व सिपाही अमर सिंह पर षड्यंत्र के तहत हत्या कर शव को रेलवे ट्रैक पर फेंकने की बात कही थी। जिसके आधार पर दोनों ज्ञात और 1 अज्ञात के विरुद्ध 302, 120 बी 506 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर जांच की जा रही है। जांच के बाद विधिक कार्यवाही की जाएगी।

पत्रकार की मां लक्ष्मी पाण्डेय ने पुलिस को दी तहरीर में एसआई सुनीता चौरसिया के संबंध में बताया कि वह मृत पत्रकार बेटे की मित्र थी और उनका घर आना जाना था। उनका आरोप है विभाग का एक सिपाही अमर सिंह जो पूर्व में दरोगा का जीप चालक था ने 11 नवंबर को बेटे सूरज को फोन करके सुनीता चौरसिया का नाम लेकर बुरा भला कहा और देख लेने की धमकी भी दी थी। तहरीर में उनका आरोप है 12 नवंबर को सुबह 9 बजे बेटे सूरज को फोन कर किसी ने बुलाया। इसके बाद उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। घर से निकलने के बाद उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया था।