स्काउट्स और गाइड्स की समाज में रचनात्मक भूमिका : जयराम ठाकुर

छात्र और अध्यापक इनकी गतिविधियों में नियमित रूप से भाग लें

शिमला/जेमी शर्मा : स्काउट वादा और कानून पर आधारित मूल्य प्रणाली के माध्यम से स्काउटिंग एक बेहतर दुनिया के निर्माण में युवा लोगों की शिक्षा में योगदान करती है, जहां लोग आत्मनिर्भर होते हैं और समाज में रचनात्मक भूमिका निभाते हैं। यह बात मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां आयोजित भारत स्काउट्स और गाइडस की राज्य परिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।

मुख्यमंत्री ने स्काउट्स और गाइडस गतिविधियों में नियमित रूप से भाग लेने के लिए विद्यार्थियों तथा अध्यापकों का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि आजकल बहुत से युवा आत्म विश्वास की कमी के कारण अनेक समस्याओं का सामना कर रहे हैं। स्काउट आन्दोलन में भाग लेने से उनमेंं आत्म विश्वास और उत्साह की भावना उत्पन्न होगी और इससे विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास में मदद मिलेगी साथ ही उनमें सामाजिक जिम्मेवारी की भावना भी उत्पन्न होगी। स्काउटिंग से विद्यार्थियों में अनुशासन और साहस पैदा होता है, जो उन्हें कठिन समय में आगे रहने में मदद करता है। 

जय राम ठाकुर ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि शिक्षा में उत्कृष्टता हासिल करने के अलावा विद्यार्थियों को देश के अच्छे नागरिक बनाया जाए। उन्होंने कहा कि स्काउट्स और गाइडस जैसे संघ इस दिशा में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। उन्होंने कुल्लू जिला में बाढ़ के दौरान प्रभावितों की मदद में भारत स्काउट्स और गाइडस के विद्यार्थियों की भूमिका की सराहना की।  विद्यार्थियों में नशीले पदार्थों के दुरूपयोग की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने स्काउट्स और गाइडस को इस बुराई को रोकने में सक्रिय भूमिका निभाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि भारत स्काउट्स और गाइडस को देय 25 लाख रुपये का अनुदान शीघ्र जारी किया जाएगा। उन्होंने आश्वासन दिया कि इस अनुदान में वृद्धि की जाएगी।  

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसोशिएसन के साथ 1897 पाठशालाऐं, 67 महाविद्यालय तथा 7 खुली इकाइयां पंजीकृत हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्काउट्स और गाइडस की कुल संख्या 48230 है। उन्होंने कहा कि यह सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए एक स्वैच्छिक तथा शैक्षिक आन्दोलन है। मुख्यमंत्री को औपचारिक तौर पर भारत स्काउट्स और गाइडस हिमाचल प्रदेश राज्य परिषद का अध्यक्ष जबकि शिक्षा मंत्री को उपाध्यक्ष नामित किया गया। जय राम ठाकुर ने इस अवसर पर मनीला फिलिपिन्स में हाल ही में आयोजित 26वें एशिया पैसिफिक स्काउट सम्मेलन के दौरान एशिया पैसिफिक मैसेन्जर्स ऑफ पीस हीरो अवार्ड प्राप्त करने के लिए ज्योति चरण चौहान को सम्मानित भी किया।  शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्धाज ने कहा कि स्काउट्स और गाइडस अपने सदस्यों को मानसिक और शारीरिक तौर पर मजबूत बनाने में मदद करते हैं ताकि वे अपने समुदायों तथा विश्व के लिए सकारात्मक योगदान कर सकें। उन्होंने सदस्यों में समर्पण, डयूटी तथा अनुशासन की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि आज यह एसोशिएसन विश्व के 120 देशों में कार्य कर रही है।

Related Stories: