+

लेह-दिल्ली रूट पर साढ़े आठ माह नहीं दौड़ेगी निगम की बस

शिमला (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश के सबसे लंबे 1026 किलोमीटर रूट पर साढ़े आठ महीने एचआरटीसी बस नहीं दौड़ेगी। बारालाचा (16020), लाचुंग दर्रा (16620), तंगलंग दर्रा (17480) से होकर लेह-
लेह-दिल्ली रूट पर साढ़े आठ माह नहीं दौड़ेगी निगम की बस

शिमला (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश के सबसे लंबे 1026 किलोमीटर रूट पर साढ़े आठ महीने एचआरटीसी बस नहीं दौड़ेगी। बारालाचा (16020), लाचुंग दर्रा (16620), तंगलंग दर्रा (17480) से होकर लेह-दिल्ली बस सेवा 15 अक्तूबर से बंद कर दी गई है। अब इस रूट पर अगले साल जून के बाद ही बस का संचालन हो पाएगा। इस साल एचआरटीसी के केलांग डिपो ने दिल्ली-मनाली-केलांग से लेह के लिए अटल टनल रोहतांग के रास्ते एक जुलाई से बसों का संचालन किया।

साढ़े तीन माह बाद ही इस रूट पर बस संचालन बंद करना पड़ा है। यह रूट 15 अक्तूबर से आधिकारिक तौर पर बंद कर दिया जाता है। कई बार केलांग से आगे बारालाचा, लाचुंग और तंगलंग दर्रा में मौसम अनुकूल रहने पर निगम प्रबंधन काफी समय तक लोगों को बसों की सुविधा देता रहा है। इस बार मौसम खराबी के चलते निगम ने बस सेवा को बंद कर दिया है। गौरतलब है कि यह रूट सामरिक दृष्टि से भी अति महत्वपूर्ण है। वर्ष 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान सड़क अपना सामरिक महत्व दर्ज करा चुकी है।

तब से लेकर इस सड़क पर सेना की कानवाई, रसद और अन्य सामग्री भेजी जा रही है। अटल टनल रोहतांग के बनने से पूर्व लेह-दिल्ली रूट 1072 किमी था। अब इसकी दूरी 46 किमी घटकर 1026 किमी रह गई है। इसके चलते 36 घंटे का सफर अब 32 घंटे में पूरा हो जाता है। उधर, एचआरटीसी केलांग डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक मंगल चंद मनेपा ने कहा कि लेह-दिल्ली बस सेवा 15 अक्तूबर से बंद की गई है। इस रूट पर बस सेवा आगामी वर्ष में जून माह के बाद ही शुरू की जाएगी।

शेयर करें
facebook twitter