कोरोना का साइड इफेक्ट: पंजाब और हिमाचल में शराब हुई महंगी

07:45 PM Jun 01, 2020 |

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज):  पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सोमवार को 1 जून से शराब पर कोविड सैस लगाने की मंजूरी दे दी। इस फैसले से राज्य को मौजूदा वित्तीय वर्ष के दौरान 145 करोड़ रुपए का अतिरिक्त राजस्व इकट्ठा होगा और राज्य में शराब के दाम से दो रुपये से लेकर 50 रुपये तक बढ़ जाएंगे।


मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के समूह की सिफारिशों को मानते हुए कहा कि राज्य को 26000 करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान हुआ है जो साल 2020 -21 के कुल बजट राजस्व अनुमानों का ३0 प्रतिशत बनता है जिस कारण अतिरिक्त राजस्व जुटाने के लिए कुछ कठोर उपायों की ज़रूरत है। मौजूदा वित्तीय वर्ष के दौरान शराब पर असैसड फीस और अतिरिक्त आबकारी ड्यूटी लगाने संबंधी मूल्यांकन करने के लिए मंत्रियों का समूह 12 मई को बनाया गया था। मुख्यमंत्री ने आबकारी और कर विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि अतिरिक्त जुटाए जाने वाले राजस्व की सारी रकम कोविड से सम्बन्धित कामों पर ख़र्ची जाएगी। यह सैस मौजूदा वर्ष के दौरान एल -1/एल -13 (थोक लायसेंस) से शराब की ट्रांसपोर्टेशन के परमिट जारी करते समय वसूला जायेगा।

शराब की किस्म    प्रति बोतल                                                                आधी बोतल                                       छोटे साईज    
देसी शराब          5 रुपए प्रति बोतल                                                 3 रू प्रति आधी बोतल    2 रुपए अन्य किसी भी छोटे साईज के लिए    
अंग्रेजी शराब    10 रू प्रति बोतल,  बड़ी पैकिंग के अनुपात के अनुसार    6 रू प्रति आधी बोतल    4 रू अन्य किसी भी छोटे साईज के लिए    
बीयर    5 रू हर 650 मिली लिटर पर या इससे कम मात्रा पर    
वाईन    10 रू हर 650 मिली लिटर पर या इससे कम मात्रा पर    
आर.टी.डी     5 रुपए (हर साइज की प्रति बोतल पर)    

उधर, अनलॉक-1.0 के बीच सोमवार से हिमाचल में शराब के साथ-साथ पेट्रोल व डीजल भी महंगा हो गया है। सरकार ने शराब पर लगने वाले विशेष सैस और पेट्रोल-डीजल पर बढ़े वैट की अधिसूचना जारी कर दी है। जानकारी के अनुसार ये अधिसूचना रविवार रात 12 बजे से लागू हो चुकी है, इसके चलते सोमवार से इनके दाम बढ़ गए हैं। बता दें कि इस बाबत जयराम कैबिनेट की बैठक में निर्णय लिया गया था, उसके अनुरूप ही अधिसूचना जारी हुई है। कैबिनेट ने विभिन्न प्रकार की शराब पर 5, 10 व 25 फीसदी अतिरिक्त कोविड सैस लगाने की मंजूरी दे रखी है। साथ ही पेट्रोल-डीजल पर सीधे तौर पर एक-एक रुपए प्रति लीटर की दर से वैट में बढ़ौतरी को मंजूरी दी थी।