मांसाहारियों के लिए वरदान बना कोरोना, राशन कार्ड पर मिल रहा है फ्री मुर्गा 

हमीरपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कोरोना वायरस के कहर ने कई मजबूत देशों को हिला कर रख दिया है। लाखों लोग वायरस की चपेट में गए हैं। इसी प्रकार भारत में भी कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है, लेकिन इसी बीच उत्तर प्रदेश के जिले में कोरोना वायरस वरदान साबित हो रहा है। हमीरपुर ज‍िले में कोरोना की दहशत के चलते पोल्ट्री व्यवसाय गर्त में चला गया है। 

दुकानदार बीपीएल राशन कार्ड धारकों को फ्री में मुर्गा दे कर लोगों को हैरत में डाल रहे हैं। आम लोगों को कुल 20 रुपये किलो चिकन बेचा जा रहा है। इतना ही नहीं बल्कि फ्री में मुर्गा देने के पोस्टर भी दुकानों में लगा कर लोगों को आकर्षित किया जा रहा है। 

गरीबों के लिए कोरोना बना वरदान, BPL राशन कार्ड से मुर्गा फ्री

दुकानदार ने अपनी दुकान के बाहर साफ ल‍िखा है क‍ि गरीबी रेखा के नीचे वाले बीपीएल राशन कार्ड धारकों को आधार कार्ड दिखाने पर फ्री में मुर्गा दिया जाएगा। वहीं इस बेहतरीन ऑफर को  देख मासाहारी खाने वाले लोगो की मुर्गे की दुकान पर भीड़ उमड़ रही है।

गरीबों के लिए कोरोना बना वरदान, BPL राशन कार्ड से मुर्गा फ्री

जानकारी के लिए आपको बता दें क‍ि ज‍िले में बड़ी आबादी वाले राठ कस्बे में कोरोना की मार से मुर्गा व्यवसाय पूरी तरह से ठप हो गया है। आम लोगों ने मास मुर्गे का सेवन करना बंद कर दिया है, जिससे परेशान मुर्गा बेचने वाले दुकानदारों ने गरीबों को फ्री में मुर्गा देने की बात कही है और बाकी लोगों को कुल 20 रुपये किलो मुर्गा बेचकर अपना मुर्गे का स्टॉक खत्म करना शुरू कर दिया है। फ्री ऑफर के चलते मुर्गा खरीदकर खाने में अक्षम गरीब लोगों की लॉटरी ही खुल गयी है और कोरोना उनके लिये वरदान बन गया है।