कोरोना संकट : दिल्ली में डोर टू डोर स्क्रीनिंग पर रोक

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना पर लगाम के लिए केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार जुटे हुए हैं। इसी बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली में डोर टू डोर स्क्रीनिंग पर रोक लगा दी है। डोर टू डोर स्क्रीनिंग प्राथमिकता के आधार पर सिर्फ कंटेनमेंट जोन में की जाएगी। इस आदेश से पहले दिल्ली सरकार ने आदेश दिया था कि 6 जुलाई तक दिल्ली में 35 लाख परिवारों की स्क्रीनिंग की जाएगी। 

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों की रफ्तार तेज़ी से बढ़ती जा रही है। पिछले करीब दस दिनों में जब से दिल्ली में टेस्टिंग को बढ़ाया गया है, तभी से हर रोज तीन हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। हालात ये हो गए हैं कि मौजूदा वक्त में दिल्ली में करीब चीन के जितने कोरोना वायरस के मामले हो गए हैं।

कल रात जारी दिल्ली सरकार के मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में अब कोरोना वायरस के कुल 83077 मामले हैं। इनमें से करीब 27 हजार मामले एक्टिव हैं, जबकि अबतक राजधानी में 2623 लोगों की मौत हो चुकी है।
वैश्विक महामारी कोरोना कोरोना वायरस (कोविड-19) की वजह से महाराष्ट्र, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और तमिलनाडु की स्थिति भयावह होती जा रही है तथा इन तीनों राज्यों में कोरोना से अब तक 329,978 लोग प्रभावित हो चुके हैं, जो देश में इस जानलेवा विषाणु की चपेट में आई कुल आबादी का 60.18 फीसदी है।