Thursday, September 20, 2018 06:36 AM

कांग्रेस के भारत बंद काे 21 पार्टियों का मिला समर्थन

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : कांग्रेस की ओर से आहूत भारत बंद को 21 पार्टियों ने समर्थन दिया है। देशभर में हर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियों ने 10 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। आपको बता दें कि देश में एक ओर जहां पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ रही है तो वहीं रुपये भी डॉलर के मुकाबले हर नए दिन के साथ निचले स्तर पर गिरता जा रहा है। 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव और उससे पहले 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस इस मुद्दे को हर हाल में भुनाना चाहती है। 

कांग्रेस ने इसको लेकर सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है। कल होने वाले बंद को लेकर कांग्रेस को अन्य विपक्षी दलों का भी साथ मिल रहा है। भारत बंद से पहले दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि इस बंद में 21 पार्टियां शामिल होंगी। आपको बता दें कि लेफ्ट पार्टियां, डीएमके और एमएनएस ने पहले ही कांग्रेस के भारत बंद का समर्थन किया है। कांग्रेस के पूर्व सांसद अजय माकन ने कहा कि कांग्रेस ने सोमवार को भारत बंद बुलाया है। पार्टी ने बंद पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और रुपये में गिरावट के खिलाफ बुलाया है। उन्होंने कहा कि बंद में किसी भी तरह की हिंसा नहीं होगी। माकन ने व्यापारियों से भी बंद को सफल बनाने की अपील की है। 

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए माकन ने कहा कि चार साल में पेट्रोल पर 211.7 प्रतिशत और  डीजल पर 443 प्रतिशत एक्साइज ड्यूटी बढ़ी है। मई 2014 में पेट्रोल पर 9.2 रुपये एक्साइज लगता था और अब 19.48 रुपये लगता है। वहीं मई 2014 में डीजल पर 3.46 रुपये एक्साइज था, जबकि अब 15.33 रुपये लगता है। सरकार से मांग है कि पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाए। ऐसा हुआ तो कीमतें 15-18 रुपये तक कम होंगी। इससे बाकी चीजों की मंहगाई भी कम होगी। सरकार ने पिछले चार साल में एक्साइज ड्यूटी से 11 लाख करोड़ रुपए कमाए हैं।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।