कांग्रेस के शकील ने संस्कृत में ली शपथ, ओवैसी के विधायक ने शपथ में हिंदुस्तान के बदले भारत कहने की मांगी अनुमति

पटना (उत्तम हिन्दू न्यूज)-कांग्रेस के शकील अहमद खां ने बिहार विधानसभा की सदस्यता की शपथ संस्कृत में लेकर जहां सबका दिल जीत लिया वहीं ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के विधायक अख्तरुल इमान के शपथ में हिंदुस्तान शब्द के बदले भारत कहने पर अड़ने से नया विवाद खड़ा हो गया है।

सत्रहवीं बिहार विधानसभा के पहले सत्र की पहली बैठक में सोमवार को नवनिर्वाचित विधायकों को सदन की सदस्यता की शपथ दिलाई गई। कदवा से चुनाव जीतने वाले कांग्रेस के शकील अहमद खां ने जब संस्कृत में सदन की सदस्यता की शपथ ली तब पक्ष-विपक्ष के सदस्यों ने मेज थपथपा कर खुशी जाहिर की।  खां के अलावा भोजनावकाश से पूर्व सोनवर्षा से निर्वाचित जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के रत्नेश सदा और सीतामढ़ी से चुनाव जीतकर आए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मिथिलेश कुमार ने भी संस्कृत में शपथ ली। वहीं, दूसरी ओर अमौर से चुनाव जीत कर आए एआईएमआईएम अख्तरुल इमान ने शपथ में हिंदुस्तान और भारत शब्द को लेकर सवाल खड़ा किया। उन्होंने प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी से हिंदुस्तान के बदले भारत शब्द बोलने की अनुमति मांगी और कहा कि हिंदी भाषा में शपथ लेते वक्त भारत के संविधान शब्द का प्रयोग किया जाता है। मैथिली भाषा में भी यही शब्द आता है, लेकिन उर्दू में शपथ के लिए जो प्रपत्र दिया गया है, उसमें भारत के बदले हिंदुस्तान लिखा गया है।