सियासी संग्राम के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल की बड़ी कार्रवाई, कर्नाटक प्रदेश कार्यकारिणी भंग

02:44 PM Jun 19, 2019 |

बेंगलुरू (उत्तम हिन्दू न्यूज): कर्नाटक में जारी सियासी संग्राम के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा कदम उठाया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कर्नाटक कांग्रेस की राज्य कार्यकारिणी को भंग कर दिया है। हालांकि प्रदेश अध्यक्ष और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बने रहेंगे। कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने बुधवार को यहां जारी एक बयान में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष तथा कार्यकारी अध्यक्ष पद पर बने रहेंगे। 

पार्टी के वरिष्ठ नेता दिनेश गुंडू राव कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष हैं। बताया जा रहा है कि कांग्रेस संगठन में पूरी तरह से बदलाव करने के सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था कांग्रेस कार्य समिति की लोकसभा चुनाव के बाद हुई बैठक में लिए गए फैसले के तहत यह कदम उठाया गया है। कांग्रेस कार्य समिति ने पिछले माह हुई बैठक में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को केंद्रीय तथा प्रादेशिक संगठनों में बदलाव का अधिकार दिया था।

बता दें कि कर्नाटक कांग्रेस में लोकसभा चुनाव के बाद से विवाद चल रहा है। मंगलवार को ही पार्टी के वरिष्ठ नेता विधायक रोशन बेग को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण निलंबित किया गया। बेग चुनाव में खराब प्रदर्शन के लिए पूर्व मुख्यमंत्री तथा वरिष्ठ नेता सिद्दारामैया तथा गुंडू राव को जिम्मेदार बता रहे थे। उन्होंने कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल की भी आलोचना की थी।

इस बीच, कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने बताया, 'मुझे बताया गया है कि कर्नाटक प्रदेश कांग्रे कमेटी को भंग कर दिया गया है। हालांकि गुंडूराव अभी भी केपीसीसी अध्यक्ष में बने रहेंगे। उन्होंने कहा कि हमें इंतजार करना होगा और देखना होगा। नई कार्यकारिणी का जल्द ही गठन होगा। नई कार्यकारिणी में किसे जगह मिल सकती है या फिर किसे बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है, इस पर उन्होंने कहा कि कोई पद मांगा नहीं जाता है. पार्टी को जिसमें काबिलियत दिखेगी, उसे पद दिया जाएगा।'