गिरता जनाधार देख बौखलाहट में कांग्रेसी नेता : राकेश जमवाल

मंडी (पुंछी): पंचायती राज चुनावों में मिली हार ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं को अंदर तक इतना झंकझोर दिया है कि ये नेता अपनी सभी मर्यादाएं भूल कर हिमाचली संस्कृति और संस्कारों को भी भूल गए। ये बातें भाजपा प्रदेश महामंत्री व सुंदरनगर के विधायक राकेश जमवाल ने मीडिया को जारी बयान में कही। उन्होंने कहा की कोई राजनैतिक दल चुनावों में मिली हार से इतना बौखला सकता है इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती थी ,परन्तु कांग्रेस पार्टी के इस शर्मनाक कृत्य ने ये साबित कर दिया है कि इस दल के लिए सामाजिक मूल्यों के लिए कोई स्थान नहीं है। राज्यपाल व मुख्यमंत्री जैसे संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों के साथ दुव्र्यवहार प्रदेश के इतिहास में काला दिवस है और भारतीय जनता पार्टी इसका विरोध करती है। इस कृत्य ने मुकेश अग्निहोत्री जैसे नेताओं की मानसिकता व सोच को जनता के सामने बेनकाब किया है और समय आने पर प्रदेश की प्रबुद्ध जनता इसका उचित जवाब देगी।

प्रदेश महामंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के बढ़ते कद व पूरे प्रदेश में बढ़ती लोकप्रियता व स्वीकार्यता ने कांग्रेसी नेताओं को पूरी तरह से हतप्रद कर दिया है और उनकी सोचने और समझने की शक्ति पूरी तरह से समाप्त हो चुकी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नेताओं का ऐसा अमर्यादित व्यवहार देश व प्रदेश की आने वाली पीढ़ी के लिए अच्छा संदेश नहीं है और मांग की कि कांग्रेस पार्टी के नेता इस ओछी हरकत के लिए प्रदेश की जनता से सार्वजनिक रूप से माफ़ी मांगे। 
प्रदेश महामंत्री ने कहा की भारतीय जनता पार्टी इस कुकृत्य का विरोध प्रदर्शन प्रदेश भर में करेगी और मण्डल स्तर पर 27 व 28 फरबरी को कांग्रेस पार्टी का पुतला फूकेगी।उन्होंने कहा कि चुनावों में हार व जीत दो पहलू हैं परंतु हारने पर ऐसा व्यवहार कतई भी स्वीकार्य नहीं।