धर्मांतरण के नाम से भाजपा राजनीतिक वैतरणी पार करने की फिराक में : कांग्रेस

रेवाड़ी (निनानिया): स्वयंसेवी संस्था ग्रामीण भारत के अध्यक्ष एवं हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वेदप्रकाश विद्रोही ने आरोप लगाया अपनी गिरती साख, जनता में बढ़ते आक्रोश से ध्यान बंटाने हरियाणा भाजपा सरकार व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सत्ता दुरुपयोग से विश्व हिंदू परिषद को आगे करके मेवात में कथित धर्म परिवर्तन की गलत रिपोर्ट के माध्यम से प्रदेश में नफरत, बंटवारे व ध्रुवीकरण की राजनीति के बीज बोकर भविष्य की अपनी राजनीतिक वैतरणी पार करने की फिराक में है।

विद्रोही ने कहा कि शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व विश्व हिंदू परिषद के नेताओं के बीच मेवात में कथित धर्मांतरण के मुद्दे पर हुई बैठक में मुख्यमंत्री का वीएचपी नेताओं को हरियाणा में धर्मांतरण विरोधी कानून लाने की संभावना का आश्वासन देना एक बड़े राजनीतिक षड्यंत्र का हिस्सा है।

वीएचपी ने 15 मई को मीडिया में गलत रिपोर्ट जारी करके दावा किया कि मेवात में 50 से ज्यादा गांव हिंदू विहीन हो गए और मात्र एक सप्ताह में ही मुख्यमंत्री से मिलते समय ऐसे गांवों की संख्या रातों-रात सौ का आंकड़ा पार कर गई, जो परिस्थितिजन्य साक्ष्य है कि भाजपा सरकार व राष्ट्रीय स्वयंसेवक वीएचपी को आगे करके मेवात में हिंदुओं की प्रताडऩा के गलत बहाने बनाकर प्रदेश मे राजनीतिक लाभ के लिए तानाबाना बुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन गांवों में हिंदुओं का पलायन मेवात से हुआ उसका कारण धर्मांतरण न होकर रोजगार व व्यापार के बेहतर अवसर तलाशने के लिए शहरों में बसना है।