राफेल डील मामले की निष्पक्ष जांच को लेकर CVC से मिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : आज यानी सोमवार को कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) से मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान कांग्रेस ने मांग की कि राफले जेट खरीद घोटाले की जांच सीबीसी अपनी ओर से करे। इस संदर्भ में कांग्रेस ने सीवीसी को एक विस्तृत ज्ञापन भी दिया। सीवीसी से मुलाकत के बारे में कांग्रेस के नेता आनंद शर्मा ने बताया कि उन्होंने सीवीसी को ज्ञापन सौंप कर राफेल विमान समझौते के सभी फाइलों और दस्तावेजों को जब्त करने की मांग की है। साथ ही यह भी मांग की है कि इस मामले में सीवीसी हस्तक्षेप करे और मामले की पूरी जांच करे। 

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस का नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर तेवर अपनाते हुए आज कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) से मुलाकात की। इस प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस के वरिष्ट नेता शामिल थे। मुलाकात के दौरान कांग्रेस के नेताओं ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे में कथित भ्रष्टाचार की स्वतंत्र और निष्पक्ष रूप से जांच कराने की मांग की। इससे पहले कांग्रेस डेलीगेशन ने पिछले हफ्ते मंगलवार को नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (सीएजी) के दफ्तर जाकर इस बारे में जांच कराने की मांग की थी। कांग्रेस के इस प्रतिनिधिमंडल में गुलाम नबी आजाद, अहमद पटेल, आनंद शर्मा, रणदीप सुरजेवाला समेत पार्टी के अन्य नेता शामिल थे। 

आज के प्रतिनिधिमंडल में भी कांग्रेस के सभी वरिष्ट नेता शामिल थे लेकिन अध्यक्ष राहुल गांधी इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल नहीं थे। इस पूरे मामले को लेकर कांग्रेस के वरिष्ट नेता आनंद शर्मा ने पत्रकारों को बताया कि उन्होंने केन्द्रीय सतर्कता आयुक्त से राफेल सौदे की निष्पक्ष जांच की मांग की है। बता दें कि राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने हाल ही में दिए एक फ्रेंच अखबार को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया था कि भारत सरकार ने इस डिफेंस डील में फ्रेंच कंपनी (डसाल्ट एविएशन) को साझीदार के तौर पर एक निजी कंपनी का नाम आगे बढ़ाया था। ओलांद के इस दावे के बाद कांग्रेस समेत विपक्षी पार्टियां बेहद आक्रामक होकर मोदी सरकार को घेरने का काम कर रही हैं। 

इधर कांग्रेस के नेता राफेल मामले को लेकर और ज्यादा आक्रामक नजर आ रहे हैं। राफेल सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि राफेल मामले में मोदी सरकार लगातार गलत बोल रही है। उन्होंने कहा कि घोटाले और भ्रष्टाचार में संलिप्त मोदी सरकार देश का ध्यान भटकाना चाहती है। उन्होंने कहा कि निराश और चिंतित मोदी सरकार देश के ध्यान को हटाने के लिए पाकिस्तान का सहारा ले रही है। सुरजेवाला ने कहा कि जब आप साड़ी-शाल कूटनीति में शामिल थे तो पाकिस्तान के लिए आपका प्यार स्पष्ट नहीं था, जबकि पाकिस्तानी हमारे सैनिकों की हत्या कर रही थे। 
 

Related Stories: