कांग्रेस खुद को न्यायपालिका से ऊपर मानती है : मोदी

इलाहाबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस की हमेशा से सोच रही है कि वह न्यायपालिका से ऊपर है। अर्धकुंभ मेले से पहले यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, देश में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली पार्टी हमेशा खुद को प्रत्येक कानून, न्यायपालिका, प्रत्येक संस्थान और यहां तक कि राष्ट्र से ऊपर मानती रही है। इस पार्टी ने भारत के लोकतांत्रिक संस्थानों को बर्बाद किया है। 

उन्होंने कहा, अब कुछ समय से एक बार फिर न्यायपालिका पर दबाव बनाने का खेल शुरू हुआ है। इसे लेकर युवाओं को सतर्क रहना होगा। मोदी ने याद दिलाया कि कैसे इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने एक बार पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के निर्वाचन को रद्द कर दिया था। मोदी ने केशवानंद भारती मामले का भी उल्लेख किया, जिसमें सरकार से संविधान की रक्षा की गई।

मोदी ने कहा कि न्यायमूर्ति एच.आर.खन्ना को भारत के प्रधान न्यायाधीश के पद से हटा दिया गया। खन्ना ने इंदिरा गांधी के आपातकाल लागू करने के फैसले का विरोध किया था। मोदी ने कहा, इस पार्टी ने अपने हितों के लिए न तो लोकतंत्र की परवाह की और न ही किसी संस्थान की परवाह की।