कांग्रेस अकेले पूर्वोत्तर के लोगों की रक्षा कर सकती है : राहुल  

इंफाल (उत्तम हिन्दू न्यूज): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी अकेले पूर्वोत्तर के लोगों की संस्कृति, भाषा व इतिहास की रक्षा कर सकती है। उन्होंने नागरिकता (संशोधन) विधेयक 2016 को राज्यसभा में पारित होने से रोकने का दावा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि वह और उनकी पार्टी विधेयक का विरोध जारी रखेंगे। उन्होंने मणिपुर में एक रैली में लोगों को याद दिलाया कि मोदी ने जो भी क्षेत्र के आठ राज्यों के लिए किया है, वह मनमोहन सिंह के 'लुक ईस्ट' नीति का नाम 'एक्ट ईस्ट' करके किया है।

कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि नाम के अलावा उन्होंने कोई प्रगति नहीं की है। उन्होंने प्रधानमंत्री के हर साल दो करोड़ रोजगार पैदा करने के वादे की निंदा की और इसके बजाय बीते पांच सालों में हर रोज 30,000 रोजगार नष्ट करने को लेकर हमला बोला। राहुल ने मोदी के नोटबंदी के कदम को लेकर उनका मजाक बनाया। 

उन्होंने कहा, एक सुबह प्रधानमंत्री उठे और उन्होंने कहा कि मैं 500 व 1000 रुपये के नोटों को पसंद नहीं करता। इन नोटों को बंद किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आम लोगों को बैंक की लंबी कतारों में खड़ा होना पड़ा, लेकिन यह शासन व्यवस्था के लिए कोई मायने नहीं रखता।

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के बारे में राहुल गांधी ने कहा कि इसे मोदी के धनवान मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए शुरू किया गया, जबकि छोटे व मध्यम व्यापारियों की इससे कमर टूट गई। लोगों से कांग्रेस को वोट देने की अपील करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जब भी मोदी कुछ कहते हैं, उनके पास कोई खतरनाक योजना होती है और वह हमेशा नफरत फैलाकर लोगों को बांटते हैं।

Related Stories: