Friday, May 24, 2019 01:16 AM

मुख्यमंत्री ने दिये वन रक्षक की मौत के जांच के आदेश,पत्नी ने मांगी सीबीआई जांच

मंडी (उत्तम हिन्दू न्यूज): हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गत दिनों मंडी जिले में एक वन रक्षक की सड़क हादसे में मौत की जांच के आदेश दिये हैं वहीं वन रक्षक की पत्नी सुनीता ने इसे हत्या बताते हुये मामले की केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) से जांच कराने की मांग की है।

वन रक्षक हरीश कुमार(44) की गत 16 अप्रैल को केलोधार के पास सड़क हादसे में मौत हो गई थी लेकिन सुनीता इसे हादसा मानने को तैयार नहीं है। सुनीता ने इस संदर्भ में मंडी के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख कर मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। उसका कहना है कि उसके पति गत कुछ  मय से हलीणू वन बीट में सक्रिय वन माफिया से काफी परेशान थे और काफी दबाव में भी थें और गोहर पुलिस थाने में अवैध कटान को लेकर शिकायतें दर्ज कराई थीं तथा वन विभाग के अधिकारियों को भी सूचित किया था लेकिन किसी ने कोई कार्रवाही नहीं की। सुनीता ने आरोप लगाया कि उसके पति की वन माफिया ने हत्या की है और इस पूरे मामले की न्यायिक या सीबीआई जांच होनी चाहिए। दिवंगत हरीश कुमार डोगरा रेजिमेंट से बतौर हवलदार रिटायर होने के बाद वन रक्षक के रूप में दूसरी सरकारी नौकरी कर रहा था। सुनीता का कहना है कि उसके पति के मोबाईल फोन में वन माफिया से सम्बंधित सारे सबूत मौजूद हैं और यह फोन अभी पुलिस के पास है। फोन में मौजूद वीडियो और फोटो ही जांच के लिए काफी हैं। इस बीच मुख्यमंत्री ठाकुर ने बताया कि उन्होंने मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे उस आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।
 

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400023000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।