हिमाचल में कामगारों के बच्चों को अब वार्षिक आर्थिक सहायता मिलेगी ज्यादा

शिमला (पी.सी. लोहमी): सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इस बार तीन नए मंत्री भी कैबिनेट की बैठक में शामिल हुए। कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। बैठक में जल शक्ति विभाग में जेई के 56 पद भरने की स्वीकृति दी गई। यह पद सीधी भर्ती के आधार पर भरे जाएंगे। इसमें जेई (सिविल) के 30, जेई (मैकेनिकल) के 20 और जेई (इलेक्ट्रीकल) के 6 पद शामिल हैं। इसके अलावा डीसी ऑफिस कुल्लू व चंबा में स्टेनोटाइपिस्ट और चालक के पद भरने को भी मंजूरी प्रदान की गई। कैबिनेट की बैठक में करुणामूलक आधार पर मिलने वाली नौकरी को लेकर भी बड़ा फैसला लिया गया। नौकरी के दौरान मृत्यु हो जाने पर कर्मचारी के बच्चों को नौकरी दी जाती है। क्लास थ्री में क्लर्क की नौकरी देने का प्रावधान था, लेकिन अब क्लर्क की जगह जेओए के पद भरे जा रहे हैं। ऐसे में अब पॉलिसी को बदल कर जेओए के पदों पर भी नियुक्ति दी जाएगी।

यह करूणामूलक आधार पर नौकरी पाने वालों के लिए बड़ी राहत है। कैबिनेट ने सीवरेज टैक्स में भी कमी करने को स्वीकृति दी है। पहले पानी के बिल का पचास फीसदी सीवरेज टैक्स लिया जाता था, लेकिन अब 30 फीसदी लिया जाएगा। इसके अलावा भवन और अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के पास रजिस्ट्रर कामगारों को दो हजार की तीसरी किश्त जारी करने को भी हरी झंडी मिल गई। वहीं कामगारों के बच्चों को मिलने वाली वार्षिक आर्थिक सहायता में भी बढ़ोतरी की गई। पहले कक्षा पहली से लेकर आठवीं तक लडक़ी के लिए 7 हजार सहायता राशि दी जाती थी, अब वह आठ हजार मिलेगी। वहीं, लडक़े को तीन हजार की जगह पांच हजार मिलेंगे। 9वीं से 12वीं तक लडक़ी को अब 11 हजार व लडक़े को दस हजार मिलेंगे।

इसके अलावा शादी के लिए दो बच्चों पर मिलने वाली राशि को 35 हजार से 51 हजार कर दिया है। कुल्लू, किन्नौर व लाहुल स्पीति में महिला शक्ति केंद्र योजना प्रारंभिक की है। योजना के तहत विभिन्न महिला कल्याण अधिकारी, दो-दो समन्वयक जिलों में तैनात करने की स्वीकृति प्रदान की। नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट 2013 के तहत निगरानी के लिए स्टेट फूड कमीशन के गठन को मंजूरी दी है। कॉपरेटिव विभाग में स्वतंत्रता सैनानियों के आश्रितों के बैकलॉग जूनियर ऑफिसर असिस्टेंट (आईटी) के पद भरने को भी मंजूरी दी गई है।