Tuesday, November 13, 2018 06:39 AM

मधुमेह पीड़ित गर्भवती महिला के बच्चों में ऑटिज्म का खतरा

लंदन (उत्तम हिन्दू न्यूज): गर्भवती महिला के मधुमेह से पीड़ित होने पर उसके बच्चों में आटिज्म स्पेक्ट्रम डिसॉर्डर (एएसडी) का खतरा बढ़ जाता है। यह बात एक शोध में सामने आई है। एएसडी मानसिक विकास से संबंधित विकार है, जिसमें व्यक्ति को सामाजिक संवाद स्थापित करने में समस्या आती है और वह आत्मकेंद्रित बन जाता है। अमेरिका की हेल्थकेयर कंपनी कैसेर परमानेंट के एनी एच. सियांग समेत इस शोध में शामिल शोधार्थियों ने बताया कि यह खतरा टाइप-1 और टाइप-2 के विकार और गर्भावस्था के दौरान मधुमेह से पीड़ित होने से संबंधित है। 

शोध के नतीजों में पाया गया है कि एएसडी का खतरा मधुमेह रहित महिलाओं के बच्चों की तुलना में उन गर्भवती महिलाओं के बच्चों में ज्यादा होता है, जिनमें 26 सप्ताह के गर्भ के दौरान मधुमेह की शिकायत पाई जाती है। शियांग ने कहा कि मां में मधुमेह की गंभीरता मधुमेह पीड़ित महिला के बच्चों में ऑटिज्म की शिकायत से जुड़ी होती है। यह शोध जेएएमए पत्रिका में प्रकाशित हुई है। शोध में 4,19,425 बच्चों को शामिल किया गया था, जिनका जन्म 28 से 44 सप्ताह के भीतर हुआ है। यह शोध 1995 से लेकर 2012 के दौरान किया गया।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।