मुख्य सचिव विनी महाजन ने लगवाया कोविड वैक्सीन का पहला इंजेक्शन

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज): कोविड रोकथाम वैक्सीन संबंधी झिझक और भ्रम दूर करने और लोगों को खुद टीका लगवाने के लिए उत्साहित करने के लिए पंजाब की मुख्य सचिव श्रीमती विनी महाजन ने गुरूवार को पंजाब सिविल सचिवालय -1 में लगाए एक विशेष कैंप में वैक्सीन की पहली खुराक ली। इस कैंप का उद्घाटन भी मुख्य सचिव की तरफ से किया गया। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के दिशा-निर्देशों के मुताबिक खतरनाक वायरस को हरा कर ‘मिशन फतेह’ की प्राप्ति के लिए यह कैंप सरकारी कर्मचारियों की सुविधा के लिए लगाया गया था। मुख्य सचिव ने बताया कि पंजाब सिविल सचिवालय -1, सैक्टर -1 में यह विशेष कैंप 9 अप्रैल तक लगाया जायेगा। इसी तरह पंजाब सिविल सचिवालय -2, सैक्टर 9, चण्डीगढ़ में भी एक कैंप लगाया गया है, जो 30 मई तक जारी रहेगा। श्रीमती महाजन ने कहा, ‘मैं पहला टीका लगवाने के बाद तंदुरुस्त महसूस कर रही हूँ। आइए, हम सभी यह यकीनी बनाऐं कि हर योग्य व्यक्ति यह टीका लगवाए। ’’अग्रिम पंक्ति में अपनी सेवाएं निभा रहे विभिन्न विभागों के वर्करों की सराहना करते हुये मुख्य सचिव ने कहा कि कोविड के फैलाव को रोकने और सेहतमंद और सुरक्षित भविष्य सृजन करने के लिए सरकारी कर्मचारी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। मुख्य सचिव ने कहा कि 45 साल से अधिक आयु का हर व्यक्ति आज से ही वैक्सीन लगवाने के लिए योग्य है। उन्होंने सभी योग्य व्यक्तियों को जल्द से जल्द टीका लगवाने अपील की।


उन्होंने कहा कि कीमती मानवीय जानों को महामारी के प्रकोप से बचाने के लिए राज्य में अब हफ्ते के सभी दिनों में टीका मुहिम चलाई जा रही है और राज्य में अब तक 9,57,091 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा चुका है। राज्य सरकार ने सभी योग्य व्यक्तियों के लिए निर्विघ्न टीकाकरण को यकीनी बनाने के लिए राज्य भर के तंदुरुस्त पंजाब हैल्थ वैलनैस सैंटरों और उप -केन्द्रों के स्तर पर भी कोविड टीकाकरण मुहिम का प्रबंध किया है। इसके इलावा अधिक से अधिक आबादी को इस मुहिम के तहत लाने के लिए पुलिस लाईनज, बी.डी.पी.ओ. कार्यालयों और स्कूलों में भी विशेष कैंप लगाए गए। टीकाकरण मुहिम का दायरा बढ़ाने के लिए राज्य भर में गुरूवार को 1,875 स्थानों (1649 सरकारी और 226 प्राईवेट) पर सक्रियता से टीकाकरण किया गया जहाँ टीकाकरण के लिए समर्पित मैडीकल टीमें नियुक्त की गई थीं। श्रीमती महाजन ने बताया कि लोग किसी भी पहचान पत्र के द्वारा मौके पर ही रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं जो किसी भी योग्य व्यक्ति के लिए टीका लगवाने के लिए यह एक उचित दस्तावेज माना जायेगा। टीके की पहली और दूसरी खुराक के लिए मौके पर ही रजिस्ट्रेशन की जा सकती है।