‘मुख्यमंत्री दूरवर्ती शिक्षा कार्यक्रम’: ‘रिलायंस जियो टी.वी’ के साथ सरकार ने किया करार 

चण्डीगढ़ (मोहन अरविन्द): हरियाणा सरकार ने कोविड-19 के दौरान ‘मुख्यमंत्री दूरवर्ती शिक्षा कार्यक्रम’ के तहत राज्य के स्कूली बच्चों की शिक्षा बेहतर करने की दिशा में एक और अहम कदम उठाया है, इसके लिए राज्य सरकार ने ‘रिलायंस जियो टी.वी’ के साथ एक करार किया है। इस बारे में जानकारी देते हुए हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री कंवर पाल ने बताया कि ‘रिलायंस जियो टी.वी’ के साथ किए गए करार के तहत एजूसेट के चारों चैनल अब जियो के प्लेटफार्म पर नि:शुल्क उपलब्ध होंगे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य वर्तमान कोविड-19 की परिस्थिति में हर स्कूली विद्यार्थी तक उसके स्तर की शिक्षा पहुंचाना है।

सरकार की इस नई पहल से विद्यार्थी टी.वी, लैपटोप, डेस्कटॉप, टेबलेट तथा मोबाइल के माध्यम से एजूसेट के चारों चैनल देख सकेंगे। यही नहीं खास बात यह है कि टी.वी पर प्रसारित की गई सामग्री एक सप्ताह तक जियो-टी.वी पर उपलब्ध रहेगी जिससे विद्यार्थी अपनी सुविधा एवं समय के अनुसार इसको देख सकता है। शिक्षा मंत्री ने बताया कि राज्य सरकार के इस कदम से प्रदेश के सरकारी व प्राइवेट स्कूलों में पढऩे वाले हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई बोर्ड के अलावा अन्य बोर्डों से पढ़ाई करने वाले हिंदी व अंग्रेजी माध्यम के करीब 52 लाख विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा।

उन्होंने बताया कि हरियाणा में जियो के करीब 94 लाख उपभोक्ता हैं जिससे प्रदेश के अधिकतर लोगों की ‘रिलायंस जियो टी.वी’ तक पहुंच आसान है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के जो विद्यार्थी जेईई व नीट की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं उनके लिए अलग से शैक्षणिक सामग्री प्रसारित की जाती है। शिक्षा मंत्री ने हरियाणा सरकार के ‘मुख्यमंत्री दूरवर्ती शिक्षा कार्यक्रम’ की प्रशंसा करते हुए कहा कि कोविड-19 की प्रतिकूल परिस्थितियों में भी हर विद्यार्थी तक आवश्यक शिक्षा पहुंचाने का कार्य किया है। इस दूरवर्ती शिक्षा का आरंभ गत 15 अप्रैल 2020 से हुआ था जो कि निरंतर जारी है। राज्य सरकार के ‘रिलायंस जियो टी.वी’  के साथ किए गए नए करार से दूर-दराज क्षेत्र के विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा।