हवाला कारोबारी पर सीबीआई का शिकंजा 

महोबा (उत्तम हिन्दू न्यूज)-  उत्तर प्रदेश में महोबा जिले के चरखारी में हवाला कारोबार के तार जुड़े होने की सूचनाओं पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा ने एक मकान में छापा मार सघन जांच पड़ताल की है। पुलिस उपाधीक्षक ने शुक्रवार को बताया कि कस्बे के नयापुरा निवासी आटो रिक्शा चालक मोहम्मद शफीक के घर लखनऊ के वरिष्ठ अधिकारी अनिल माथुर के नेतृत्व में सीबीआई की टीम ने देर रात अचानक छापामार कर व्यापक छानबीन की। टीम ने करीब एक घण्टे तक घर मे रुक कर परिवार के सभी महिला और पुरुष सदस्यों के बैंक खातों की पासबुकें व अन्य दस्तावेज के साथ ही आधार कार्ड आदि की सघन पड़ताल की। इनमे कुछ दस्तावेज संदिग्ध पाए जाने पर टीम उन्हें अपने साथ ले गई है जिनका विशेष तरीके से परीक्षण किया जाएगा।

 

उपाधीक्षक ने बताया कि मामले की गोपनीयता प्रभावित होने की आशंका से सीबीआई टीम द्वारा स्थानीय पुलिस को छापे के विषय मे कोई विशेष जानकारी नही दी है। परंतु मामला हवाला कारोबार से सम्बन्धित बताया गया है। दिल्ली में रह गए शफीक के पिता रफीक को उसके बांदा निवासी कुछ मित्रो के साथ सीबीआई द्वारा पिछले दिनों गिरफ्तार किए जाने की बात कही जा रही है। रफीक के बैंक खाते में हाल ही में एक करोड़ से अधिक धनराशि का ट्रांजेक्शन हवाला के जरिये हुआ है जिसे आतंकी फंडिंग से जोड़ कर देखा जा रहा है। सीबीआई ने टेरर फंडिंग की आशंका में एक माह के भीतर महोबा जिले में दूसरी बार छापामार कार्यवाही की है।