छेड़छाड़ का विरोध करने पर चार लोगों पर चढ़ा दी कार, दो महिलाओं की मौत

बुलंदशहर (उत्तम हिन्दू न्यूज) : बुलंदशहर में मंगलवार को हिंसा की एक भयानक घटना सामने आई। जानकारी के अनुसार, छेड़छाड़ का विरोध करने पर एक युवक ने दो महिलाओं समेत चार लोगों पर कार चढ़ा दी, जिससे दो महिलाओं की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। मृतक महिलाएं देवरानी और जेठानी थीं। भड़के लोगों ने हाईवे पर शव रखकर जाम लगा दिया। चांदपुर रोड निवासी रामवीर व भीमसेन का परिवार शादी समारोह में शामिल होकर घर लौटा था। इसी दौरान एक युवक पीडि़त पक्ष के घर के बाहर नशे में पेशाब करने लगा। महिलाओं के विरोध करने पर आरोपी ने एक युवती से छेडख़ानी शुरू कर दी। महिलाओं ने विरोध किया तो युवक धमकी देकर भाग गया।

बताया गया कि कुछ देर बाद युवक कार लेकर अपने साथियों के साथ आ गया और उसने महिलाओं पर कार चढ़ा दी, जिसमें सत्यवती पत्नी रामवीर व उर्मिला पत्नी भीमसेन की मौत हो गई, जबकि जितेंद्र पुत्र रामवीर व एक अन्य व्यक्ति घायल हो गया। पुलिस मौके पर पहुंची और देर रात महिलाओं का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। मंगलवार सुबह परिजनों ने दोनों महिलाओं के शव हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

सूचना पर कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ एसपी सिटी व एडीएम मौके पर पहुंच गए। उन्होंने लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन पीडि़त परिवार आरोपी की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ा हुआ था। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी परिवार को समझाने में जुटे रहे। आरोपी का नाम नकुल था, जो चांदपुर रोड का रहने वाला था। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए।