चुनाव से पहले झूठे वायदे करने वाले कैप्टन अमरिंदर सिंह हर फ्रंट पर हुए फेल : मान

कैप्टन को नसीहत-सरकार लोगों की भलाई के लिए कार्य करती है न की जनता पर बोझ डालने के लिए
चंडीगढ़ (विज):
आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद भगवंत मान ने कैप्टन सरकार के चार वर्षों के कार्यों की आलोचना करते हुए कहा कि कैप्टन सरकार जनकल्याण करने के बजाए जनता पर जबर्दस्ती आर्थिक बोझ डाल रही है।

मान ने कहा कि कैप्टन ने चुनाव से पहले पंजाब की जनता से जो वादे किए थे उनमें से एक भी आज तक पूरे नहीं हुए हैं। उन्होंने कहा कि कैप्टन के मुख्यमंत्री बनने के बाद पंजाब सबसे महंगी बिजली बेचने वाला राज्य बन गया है, जबकि पंजाब अपनी जरुरत से ज्यादा बिजली का उत्पादन करता है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार दूसरे राज्यों से बिजली खरीदने के बाद भी दिल्ली की आम जनता को मुफ्त में बिजली दे रही है। कैप्टन को दिल्ली सरकार के रास्ते पर चलना चाहिए और पंजाब की जनता को मूलभूत सुविधा मुफ्त में प्रदान करना चाहिए।

मान ने कैप्टन पर माफियाओं को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि बादल सरकार की तरह ही कैप्टन सरकार में भी माफिया राज स्थापित हो गया है। रेत माफिया से लेकर शराब और ड्रग माफिया सब कैप्टन सरकार के संरक्षण में अपना लूट का कारोबार चला रहे हैं। एक ओर कैप्टन सरकार के मंत्री माफियाओं को पार्टनर बनाकर सरकारी संपत्ति को उनके हवाले कर रहे हैं और दूसरी ओर सरकार जरुरतमंद चीजों के दाम बढ़ाकर लोगों पर आर्थिक बोझ डाल रही है और सरकारी खजाना भर रही है। उन्होंने कहा कि राजस्व बढ़ाने के लिए सरकार को टैक्स बढ़ाने की कोई जरुरत नहीं है, उसे अपने माफिया साथियों पर लगाम लगाने की जरुरत है। 

कानून व्यवस्था के मोर्चे पर भी कैप्टन सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई है। प्रदेश में अराजकता का माहौल बना हुआ है। रोज हत्याएं और लूट की घटना सामने आ रही है, लेकिन कैप्टन सरकार की पुलिस अपराधियों को पकडऩे में नाकाम साबित हो रही है।  

मान ने कहा, कैप्टन ने पंजाब सरकार के कर्मचारियों के साथ भी दगा किया। चुनाव से पहले उन्होंने कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रहे कर्मचारियों को स्थायी करने और वेतनमान करने का वादा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद कर्मचारियों की समस्याओं पर बात तक नहीं करते।  उन्होंने कहा कि आज सरकारी एजैंसियों में कर्मचारियों की भारी कमी है और पंजाब के युवा रोजगार के लिए सड़कों पर आंदोलन कर रहे है। कैप्टन ने युवाओं के साथ भी झूठा वादा करके उनके भविष्य को अंधकार में डाल दिया। मान ने कहा कि भारी संख्या में रोजगार पैदा करने वाली कंपनियां व्यापार पर कई तरह के गैरजरुरी कर लगा देने के कारण आज पंजाब से भाग रही है, लेकिन कैप्टन अपने वादे निभाने के बदले, फार्महाऊस में चैन से सो रहे हैं।