इमरान खान को कैप्टन अमरिंदर का जवाब, कहा-भारत को लेक्चर नहीं पाक में बैठे आतंकी दो

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आंतकी हमले के पांच दिन बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक प्रेस कान्फ्रेंस कर वही कुछ दोहरा दिया जो अब तक के पाकिस्तानी हुक्मरान करते आए हैं। इमरान ने कहा कि हिंदुस्तान सरकार पुलवामा हमले को लेकर बिना किसी सबूत के पाकिस्तान के ऊपर इल्जाम लगा रही है। अगर भारत सरकार हमें कोई सबूत देगी तो हम इस मसले पर जांच करने के लिए तैयार हैं।

इमरान खान के इस बयान पर देश के तमाम राजनीतिक दलों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इमरान को करारा जवाब देते हुए कहा कि भारत को भाषण नहीं, आतंकी मसूद अजहर को पकड़कर दो। अमरिंदर ने कहा कि आपके पास जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख मसूद अजहर है जो बहावलपुर में बैठकर आईएसआई की मदद से आतंकी हमलों को अंजाम दे रहा है। जाओ उसे वहां से उठाओ और भारत के हवाले करो। यदि आप नहीं कर सकते हैं तो हमें बताइये। मुंबई के 26/11 हमले के सबूत दिए गए, उनका क्या किया यह भी बताएं।

कातिल नहीं कबूलता कत्लः केजरीवाल
इस बीच, देश के तमाम दलों ने इमरान खान के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। आम आदमी पार्टी के संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि क्या कातिल अपने कत्ल को कभी कबूल करता है? क्या कभी पाकिस्तान ने अपनी करतूतों को कबूल किया है? भारत कमज़ोर नहीं है, इसका पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देगा।

आतंकियों का एहसान चुका रहे हैं इमरानः मनीष तिवारी
कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने कहा कि इमरान खान आतंकियों के एहसान का बदला चुका रहे हैं। पाक चुनाव के दौरान मसूद अजहर ने इमरान खान के लिए प्रचार किया था। ऐसे में इमरान खान का मसूद अजहर का बचाव करना कोई आश्चर्य की बात नहीं है।

पाक पीएम सेना के हाथों की कठपुतलीः त्यागी
जेडीयू नेता केसी त्यागी ने पलटवार करते हुए कहा कि आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले पाकिस्तान के खिलाफ हमेशा से सबूत रहे हैं। पाकिस्तान के पीएम सेना के हाथों कठपुतली बनकर रह गए हैं। इमरान खान के बयान से साफ है कि पाकिस्तान युद्ध की राह पर चल रहा है।
 

Related Stories: