रामपुर में आईटीआई के छात्र ने फांसी लगाकर दी जान

शिमला (ऊषा शर्मा) - जिला शिमला की रामपुर तहसील के रचोली में आईटीआई में पढऩे वाले एक छात्र ने अपने किराए के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। मामले की जानकारी पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। छात्र ने फांसी किस बात के चलते लगाई, इसका खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट भी नहीं मिला है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक समीर (20) पुत्र सोहन लाल सराहन के रंगोली गांव का रहने वाला था और रचोली स्थित आईटीआई में पढ़ रहा था। वह रचोली में अपनी बहन के साथ किराए के कमरे में रहता था।

सोमवार बाद दोपहर उसने कमरे की छत पर बने कुंडे में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। शाम को जब उसकी बहन कॉलेज से वापिस लौटी, तो कमरा अंदर से बंद था। उसने खिड़की में झांका तो समीर का शव फांसी के फंदे से लटक रहा है। मौके पर पहुंची रामपुर पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतरवाकर कब्जे में लिया और पड़ताल शुरू की।
रामपुर के उपपुलिस अधीक्षक अभिमन्यू वर्मा ने बताया कि घटनास्थल से सुसाइड नोट नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि यह आत्महत्या का मामला है और शव को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल रामपुर लाया गया है। इस संबंध में सीआरपीसी 174 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।