मुक्केबाजी : इंडिया ओपन सेमीफाइनल में भिड़ सकती हैं मैरीकॉम, निखत

गुवाहाटी (उत्तम हिन्दू न्यूज): छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम इंडिया ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट के दूसरे संस्करण में 51 किग्रा के सेमीफाइनल में एशियाई चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता निखत जरीन से भिड़ सकती हैं। टूर्नामेंट के लिए सोमवार को जारी हुए ड्रॉ के अनुसार, छह पुरुष और चार महिला सहित 10 भारतीय मुक्केबाजों ने सीधे सेमीफाइनल में पहुंचकर अपने पदक पक्के कर लिए हैं। एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अमित पंघल 52 किग्रा के फाइनल में एशियाई खेलों के रजत पदक विजेता फिलिपिंस के रोजन सियागा लादोन के खिलाफ रिंग में उतर सकते हैं। पुरुष वर्ग में ब्रिजेश यादव और संजय पहले ही 81 किग्रा के सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं। इनके अलावा नमन तंवर और संजीत 91 किग्रा के जबकि सतीश कुमार और अतुल ठाकुर 91 किग्रा से अधिक के भार वर्ग में पहुंच चुके हैं। 

महिला वर्ग में लवलिना बोरगोहैन और अंजलि पहले ही 69 किग्रा में पदक पक्की कर चुकी है जबकि भाग्यबती कचरी और स्वीती बूरा पहले राउंड में बाई मिलने के चलते 75 किग्रा के अंतिम-4 में पहुंच चुकी है। भारतीय महिला मुक्केबाजी टीम की परफॉर्मेंस निदेशक राफेल बर्गमैस्को ने कहा, "हमारे पास प्रत्येक भार वर्ग में कम से कम एक भारतीय मुक्केबाज हैं और मुकाबला बहुत कड़ा है। यह एक बहुत ही रोमांचक टूर्नामेंट होगा और विश्व चैंपियनशिप से पहले मुक्केबाजों के लिए खुद के प्रदर्शन को परखने का मौका होगा।" 

दूसरी ओर पुरुष वर्ग में 52 और 56 किग्रा में कम से कम तीन भारतीयों से पदक की उम्मीद है। 56 किग्रा में एशियाई चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता कविंदर सिंह बिष्ट, राष्ट्रमंडल खेलों के कांस्य पदक विजेता मोहम्मद हसमुद्दीन और विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता गौरव बिधुड़ी की नजरें स्वर्ण पदक होगी। 52 किग्रा में राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता गौरव सोलंकी और गीबी मुक्केबाजी टूर्नामेंट के कांस्य पदक विजेता सचिन सिवाक की नजरें भी पदक पर लगी होंगी। 

भारतीय पुरुष मुक्केबाजी टीम की परफॉर्मेंस निदेशक सेंटियागो निएवा ने कहा, "56 किग्रा वर्ग में हमारे पास विश्व चैंपियनशिप के पदक विजेता गौरव बिधुड़ी है। हसमुद्दीन ने वास्तव में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है और कविंदर ने एशियाई चैंपियनशिप में रजत जीता है। 52 किग्रा में सोलंकी ने हाल ही में पोलैंड में स्वर्ण पदक जीता है जबकि इस वर्ग में अमित और सचिन भी हैं।" उन्होंने कहा, "इनमें से प्रत्येक मुक्केबाज एक-दूसरे के खिलाफ मुकाबला कर रहे हैं, इसलिए मुझे लगता है कि देशवासियों के साथ-साथ विदेशी मुक्केबाजों के बीच भी एक कड़ी प्रतिस्पर्धा होगी।" 

टूर्नामेंट का उद्धघाटन समारोह सोमवार को पांच बजे करमबीर नबीन चंद्र बोरदोलोई एसी इंडोर स्टेडियम में होगा। उद्धघाटन समारोह के दौरान असम के शिक्षा मंत्री सिद्धार्थ भट्टाचार्य, पुलिस महानिदेशक बिस्वरंजन समाल, खेल सचिव समीर सिन्हा और भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के सचिव जय कोवली भी मौजूद रहेंगे। टूर्नामेंट के पहले दिन के मुकाबले शाम छह बजे से शुरू होंगे। पहले दिन सात भारतीय मुक्केबाज पहले राउंड के लिए रिंग में उतरेंगे। इनमें 52 किग्रा में सचिन सिवाक का सामना अर्जेंटीना के रामोन निकानोर क्यिरोगा से होगा।