म्यांमार में जारी है खूनी खेल, सेना ने फिर 82 लोगों को उतारा मौत के घाट

यंगून (उत्तम हिन्दू न्यूज): म्यांमार में सुरक्षा बलों और सैन्य तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों के बीच खूनी संघर्ष जारी है। कहीं फायरिंग और कई आगजनी की घटनाओं के बीच 24 घंटों में 82 लोगों की मौत हुई है। ये सभी सैन्य बलों की गोली का शिकार हुए हैं। सैन्य शासन (जुंटा) के प्रवक्ता ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान सुरक्षा बलों की कार्रवाई का बचाव किया।

म्‍यांमार में फिर बहा मासूमों का सड़क पर खून

यंगून से करीब 100 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित बागो में सरकारी सुरक्षा बलों और पुलिस की कार्रवाई में कुछ प्रदर्शनकारी मारे गए। बागो वीकली जर्नल ऑनलाइन ने बताया कि शहर के मुख्य अस्पताल में उसके एक सूत्र के अनुसार इस कार्रवाई में कम से कम 82 लोगों की मौत हुई है। सुरक्षा बलों ने इस सप्ताह तीसरी बार प्रदर्शनकारियों पर घातक बलप्रयोग किया है।  

Myanmar coup: Security forces kill 82 in single day in city | World News |  Zee News
14 मार्च को ही यंगून में 100 प्रदर्शनकारियों की मौत सुरक्षाबलों की कार्रवाई में हुई थी। यंगून म्यांमार का सबसे बड़ा शहर है। बागो यहां से करीब 100 किमी दूरी पर स्थित है। एपी ने हालांकि इन मौतों की पुष्टि नहीं की है। स्थानीय मीडिया रिपोट्र्स में कहा गया है कि सेना ने सभी शवों का ढेर एक मंदिर के ग्राउंड में लगाया है। असिसटेंस एसोसिएशन फॉर पॉलिटिकल प्रिजनर्स ने भी 82 लोगों के मारे जाने की ही खबर दी है। ये संस्था देश में 1 फरवरी के बाद से होने वाली मौतों और घायलों की संख्या पर निगाह रख रही है और मुहैया करवा रही है। इस संस्था द्वारा शनिवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बागो में मारे गए लोगों की संख्या मामले सामने और इनक आने के बाद बढ़ भी सकती है।