बीजेपी सांसद सनी देओल की लोकसभा सदस्यता खतरे में, ये है बड़ी वजह

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाब के गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव जीतने वाले बीजेपी सांसद सनी देओल मुसीबतें में घिरते हुए दिखाई दे रहे है और उनकी लोकसभा सदस्यता पर खतरा मंडरा रहा है। सनी देओल पर आरोप है कि उन्होंने चुनाव के दौरान तय सीमा से अधिक खर्च किया है। इस मामले में चुनाव आयोग को कुछ दस्तावेज भी मिले हैं जिसके आधार पर वे सनी देओल को नोटिस जारी करने पर विचार कर रहा है। जानकारी के अनुसार सनी देओल ने लोकसभा चुनाव के दौरान 86 लाख रुपये खर्च किए, जबकि सीमा 70 लाख रुपये है।

सनी देओल से हिसाब-किताब लगाने में जुटे चुनाव पर्यवेक्षकों (ऑब्जर्बर्स) ने उनसे दोबारा डिटेल की मांग की है। वहीं दूसरी ओर सनी देओल के लीगल एडवाइजरों का कहना है कि चुनाव खर्च का हिसाब-किताब लगाने में चुनाव आयोग की टीम से गलती हो गई है, जल्द ही चुनाव पर्यवेक्षकों को जांच करने के बाद सही खर्च की डिटेल दे दी जाएगी।

गौर हो कि चुनाव आयोग ने कहा था कि कि अगर कोई उम्मीदवार लोकसभा चुनाव के लिए तय सीमा से ज्यादा खर्च करके जीत भी गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और जीते हुए कैंडिडेट की सदस्यता रद कर दूसरे नंबर पर रहे कैंडिडेट को विजेता घोषित किया जा सकता है, यानी यहां तक कार्रवाई करने का प्रावधान है।