भाजपा को झटका, हिमाचल के पूर्व सांसद सुरेश चंदेल ने थामा कांग्रेस का दामन

शिमला (उत्तम हिन्दू न्यूज) : हिमाचल प्रदेश में लोकसभा की चारों सीटें जीतने की तैयारी कर रही भाजपा को चुनाव से ठीक पहले बड़ा झटका लगा है। हमीरपुर लोकसभा सीट से बीजेपी के तीन बार सांसद रहे सुरेश चंदेल आज कांग्रेस में शामिल हो गए। चंदेल ने नई दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। इस मौके पर हिमाचल प्रभारी रजनी पाटिल और प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप राठौर भी मौजूद थे।

भाजपा नेता ने रविवार को कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल और प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर से टेलीफोन पर लंबी वार्ता की थी। इससे पहले चंदेल ने कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं एआईसीसी कोषाध्यक्ष अहमद पटेल और महासचिव केसी वेणुगोपाल से मुलाकात की। इन तीनों की वार्ता का सकारात्मक परिणाम आने के बाद अहमद पटेल और वेणुगोपाल ने भी सुरेश चंदेल को कांग्रेस में लेने के लिए हरी झंडी दे दी थी।

इसके बाद आज सुरेश चंदेश विधिवत रूप से शामिल हो गए हैं। इस दौरान हिमाचल कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल और पार्टी प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर भी मौजूद रहे। सुरेश चंदेल को पार्टी में शामिल कराने के बाद कांग्रेस प्रभारी और प्रदेशाध्यक्ष शिमला रवाना हो गए। 

बता दें कि बीजेपी हिमाचल प्रदेश की सभी चार सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है, वहीं कांग्रेस ने अभी तक सभी उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। पार्टी चंदेल को टिकट दे सकती है। सुरेश चंदेल से पहले पूर्व केंद्रीय संचार मंत्री सुखराम, आश्रय शर्मा और हरीश जनरथ कांग्रेस में शामिल हो गए थे।



अनिल शर्मा ने भी जयराम ठाकुर की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था। शर्मा सुखराम के बेटे हैं। हिमाचल प्रदेश में लोकसभा की चार सीटें हैं. इन सीटों पर 19 मई को आखिरी चरण में वोट डाले जाएंगे. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने सभी चार सीटों पर जीत दर्ज की थी.