प्रशासन की बड़ी लापरवाही: 15 पॉजिटिव मरीजों को नेगेटिव बताकर भेजा दिया घर, मचा हड़कंप

हमीरपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): हिमाचल के हमीरपुर जिला में एक बड़ी प्रशासनिक चूक का मामला सामने आया है, इस से प्रशाशन और आम जनता की सांस फूल गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ज़िले के डूंगरी स्थित क्वांटरीन सेंटर से क्वांटरीन किए लोगों की टेस्ट रिपोर्ट आने से पहले ही 27 मई को सुबह उनको उनके घर भेजा दिया गया तथा उसके उपरांत देर रात आई फाइनल रिपोर्ट में उनमे से 15 लोग पॉजिटिव पाए गए। 

Recovered COVID-19 patient tests positive again, Himachal Pradesh ...

अपनी गलती का एहसास होते हुए प्रशाशन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में उन लोगों को उनके घर से लाना शुरू कर दिया। 15 कोरोना पॉजिटिव लोगों में गांव व डाकघर बिझड़ी का 35 वर्षीय युवक, बलोह (नादौन) का 55 वर्षीय व्यक्ति और 20 वर्षीय युवा, जग्गियां (नादौन) का 65 वर्षीय, बरोटी (बड़सर) का 33 वर्षीय, अमनेड से 3 लोग 51 वर्षीय, 60 वर्षीय पुरुष  इसी गांव से 54 वर्षीय महिला, गांव फ़ारसी किरवीं का 27 वर्षीय इसी गांव से 52 वर्षीय, पपलोहा दुंदवीं का 50 वर्षीय, गालियां का 30 वर्षीय, समकिरी ( मुंडखर) से 52 वर्षीय, बरोटी (बड़सर) से 27 वर्षीय महिला, गांव मरोट (कुशवाड़) का 51 वर्षीय व्यक्ति शामिल है।

Seven more test positive for Covid-19 in Himachal, state tally ...

इस चूक के चलते जिला में कम्युनिस्ट स्प्रेड का खतरा बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है क्योंकि को कोरोना पॉजिटिव लोग लगभग 12 घंटे तक न जाने कितने लोगों के संपर्क में आए होंगे। पूरे मामले पर बोलते हुए जिलाधीश हरिकेश मीणा ने कहा कि प्रशासन के ध्यान में मामला ध्यान में आने के बाद जांच बिठा दी है और कहां पर चूक हुई है इसका पता लगाया जाएगा। साथ ही एसडीएम स्तर पर रिपोर्ट को परख कर ही लोगों को रिलीव किया जाएगा 18 मई मुंबई से आए हुए लोगों को दियोटसिद्व और जेएनवी डुंगरी में क्वारंटाइन किया गया था।