Wednesday, November 21, 2018 03:19 PM

भूपेश ने सीएम रमन को विकास पर दी खुली बहस की चुनौती

रायपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री रमन सिंह द्वारा विकास के उनके नज़रिए पर सवाल उठाने पर आड़े हाथो लेते हुए उन्हे किसी खुले मंच पर बहस की चुनौती दी है।बघेल ने फ़ेसबुक और ट्विटर पर कल जारी खुले पत्र में यह चुनौती देते हुए कहा कि..छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों से मुख्यमंत्री के रूप में विराजमान डा.रमन सिंह जी आपको छत्तीसगढ़ में हर ओर विकास दिखता है,लेकिन मुझे विकास कहीं नहीं दिखाई नहीं देता..।

उन्होंने भाजपा सरकार के विकास मॉडल पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि विकास का आपका नज़रिया ऐसा है कि जिसमें ग़रीब, मज़दूर, किसान, निम्न मध्यमवर्गीय नौकरीशुदा लोग और बेरोज़गार युवा शामिल नहीं होते जिनसे असली छत्तीसगढ़ बनता है। डा.सिंह के तीन कार्यकाल पर टिप्पणी करते हुए बघेल ने कहा कि 15 वर्ष एक लंबी अवधि होती है।आपको मुख्यमंत्री के रूप में देखते तीन पीढ़ियां गुज़र गईं। जो पहली कक्षा में था वह ग्रेजुएट हो गया, जो ग्रेजुएट थे वो जवानी गुज़ार कर अधेड़ हो गए और कई अधेड़ अब या तो रिटायर हो गए या फिर रिटायर होने की सरकारी उम्र तक पहुंच गए।लेकिन यह बड़ा सवाल है कि इस प्रदेश में उन्हें क्या मिला जिसे वे बता सकें? कुछ नहीं।”

उन्होने विकास यात्रा के दौरान बिलासपुर की सभा में डा.सिंह के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि..आपने कहा कि कांग्रेस ने कुछ नहीं किया. आप जनता को बताते नहीं कि लोगों को चावल बांटने की जो योजना शुरु की, वह दरअसल कांग्रेस सरकार की खाद्यान्न योजना की देन थी,बस आपने दो रुपए किलो को एक रुपए किलो किया।आप लोगों के सामने बोलने से कतराते हैं कि जिस स्मार्ट कार्ड से वाहवाही लूटते हैं वह भी यूपीए सरकार की योजना थी। आप बता नहीं पाते कि रोज़गार की गारंटी देने वाली योजना मनरेगा भी कांग्रेस सरकार की सोच थी। ये जो 108 एंबुलेंस आपकी तस्वीरों के साथ सड़कों पर दौड़ती हैं वो दरअसल यूपीए सरकार की सोच का परिणाम है”।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।