भिवानी नगर परिषद की महिला सदस्य ने खोला मोर्चा

चेयरमैन के कार्यालय में हुक्का पीने पर जताया एतराज

भिवानी/शशी कौशिक : भिवानी नगर परिषद कार्यालय में चेयरमैन दफ्तर में खुलेआम पी रहे हुक्के के प्रयोग को हटवाने की मांग को लेकर शहर की वार्ड नम्बर 3 की महिला पार्षद सुशीला देवी ने मोर्चा खोल दिया है। महिला पार्षद का आरोप है कि एक तरफ तो सरकार ने सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान पर प्रतिबंध लगा रखा है, वहीं सरकारी कार्यालय में ही सरकार के इन नियमों को हवा में उड़ाया जा रहा है। शुक्रवार को इस बारे में महिला पार्षद ने उपायुक्त डाक्टर अंशज सिंह को ज्ञापन भी सौंपा था।

ज्ञापन में शहर के वार्ड नम्बर 3 की महिला पार्षद सुशीला देवी ने आरोप लगाया कि 5 सितम्बर को नगर परिषद की आम बैठक में भाग लेने के लिए वह अपने पति के साथ गई थी। जब वह चेयरमैन के दफ्तर में गई तो वहां पर नगर परिषद चेयरमैन रणसिंह यादव, विधायक घनश्यामदास सर्राफ व कुछ अन्य व्यक्ति बैठे हुए थे। कुछ लोग हुक्का पी रहे थे और पूरा दफ्तर हुक्के के धुएं में भरा हुआ था। वहां पर कोई अन्य महिला पार्षद भी मौजूद नहीं थी। लगभग 20 मिनट तक जब कोई महिला पार्षद कार्यालय में नहीं पहुंची तो वह रजिस्ट्रर में उपस्थिति के हस्ताक्षर करके अपने घर आ गई। महिला पार्षद ने आरोप लगाया कि चेयरमैन कार्यालय में स्थायी रूप से हुक्का रखा हुआ है और कई शरारती तत्व दिनभर वहां बैठकर हुक्के का प्रयोग करते हैं।