बंगाणा का जवान आतंकी मुठभेड़ में हुआ शहीद

ऊना (ममता भनोट)  : उपमंडल बंगाणा के सरोह गांव के 27 वर्षीय सैनिक अनिल जसवाल आतंकवादियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए। बता दें कि बृजेश का जन्म 16 जून 1994 को अशोक कुमार के घर हुआ था। बृजेश शर्मा 6 वर्ष पहले 13 जैक राइफल के 3आरआर में भर्ती हुए थे, जो वर्तमान में जम्मू में कार्यरत थे। अनिल सोम-मंगल की रात आतंकवादियों से मुठभेड़ में घायल हो गए। अस्पताल में उपचार के दौरान अनिल जसवाल ने शहीदी प्राप्त की। अनिल जसवाल अपने पीछे अपनी माता-पिता, पत्नी और 6 माह का बेटा छोड़ गए हैं।

शहीद अनिल का शव 19 जून को उसके पैतृक गांव ननावीं पहुंचने की संभावना है, जहां पर उनका विधिवत अंतिम संस्कार किया जाएगा। अनिल जसवाल के पिता अशोक कुमार सैनिक रिटायर्ड है, जबकि माता अनीता गृहिणी है। जबकि अनिल की एक बहन भी है जिसकी शादी हो चुकी है।

अनिल की शादी करीब 2 वर्ष पहले श्वेता से हुई थी। शादी के 2 वर्ष बाद अनिल के घर एक बेटे ने जन्म लिया जो करीब  6 माह का है। शहादत की सूचना मिलते ही पूरे जिला में शोक की लहर दौड़ गई। अनिल के शहीद होने के खबर उसके घर में सिर्फ उसके पिता को मालूम है। शहीद की मां व पत्नी को इसके बारे कोई पता नहीं है। पूरे गांव में मातम का माहौल है।