भारतीय खिलाड़ियोंं का जलवा : बजरंग पूनिया ने रेस्लिंग और तेजिंदर तूर ने गोला फेंक स्पर्धा में जीता गोल्ड

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने अपनी श्रेष्ठता बरकरार रखते हुए चीन में चल रही एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता के 65 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में मंगलवार के दिन स्वर्ण पदक जीत लिया जबकि प्रवीण राणा को 79 किग्रा में रजत और सत्यव्रत कादियान को 97 किग्रा में कांस्य पदक मिला।



राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के स्वर्ण विजेता तथा विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता बजरंग ने फाइनल में कजाखिस्तान के सयातबेक ओकासोव को 12-7 से पराजित किया। बजरंग के स्वर्ण जीतते ही उनके हरियाणा के सोनीपत स्थित योगेश्वर दत्त अखाड़े में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी। बजरंग के गुरु योगेश्वर और अखाड़े के कोच द्रोणाचार्य अवार्डी रामफल ने बजरंग को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

विश्व के नंबर एक पहलवान बजरंग ने मुकाबले में शानदार वापसी करते हुए जीत हासिल की। वह पहले राउंड में 2-5 से पिछड़ गए थे लेकिन उन्होंने वापसी करते हुए मुकाबला 12-7 से जीत लिया। बजरंग ने 2017 में दिल्ली में यह खिताब जीता था जबकि अगले वर्ष भिस्केक में उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था। उन्होंने इस बार फाइनल में एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता ओकासोव को हराया। इसी प्रकार पंजाब के मोगा से संंबंध रखने वाले तेजिंदर पाल सिंह तूर ने अपना शानदार प्रदर्शन बरकरार रखते हुये दोहा में एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में पुरूष गोला फेंक स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीत लिया। इसी प्रकार पहलवान बजरंग पूनिया ने कजाखिस्तान के सायातबेक ओकासोव को मात देकर मेडल अपने नाम किया। राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के स्वर्ण विजेता तथा विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता बजरंग ने फाइनल में कजाखिस्तान के सयातबेक ओकासोव को 12-7 से पराजित किया। बजरंग के स्वर्ण जीतते ही उनके हरियाणा के सोनीपत स्थित योगेश्वर दत्त अखाड़े में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी।



बजरंग के गुरु योगेश्वर और अखाड़े के कोच द्रोणाचार्य अवार्डी रामफल ने बजरंग को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।गोला फेंक स्पर्धा में तेजिंदर ने सत्र का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुये 20.22 मीटर तक गोला फेंका और स्वर्ण पदक जीता। भारत का इस प्रतियोगिता में यह दूसरा स्वर्ण पदक है। सोमवार को गोमती मरिमुथु ने महिला 800 मीटर दौड़ का स्वर्ण पदक जीता था। भारत ने प्रतियोगिता में दो स्वर्ण, तीन रजत और पांच कांस्य पदक सहित कुल 10 पदक जीत लिये हैं और वह पदक तालिका में चीन और बहरीन के बाद तीसरे स्थान पर है।कल गोला फेंक मुकाबले में भारतीय एथलीट ने चीन और कजाखिस्तान के एथलीटों को पीछे छोड़ा।