उद्योगपतियों की समस्याओं को लेकर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर से मिले अनुज छाहड़िया

नई दिल्ली (प्रतीक जैन) - भाजपा के युवा नेता अनुज छाहडिया द्वारा आल इंडिया स्टील री रोलिंग एसोसिएशन व आल इंडिया इंडक्शन फर्नेस एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल को लेकर केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से दिल्ली मंत्रालय में मिले। वफद ने मंत्री को स्टील उद्योग में आ रही दिक्कत व तकनीकी समस्याओं बारे अवगत कराया। केंद्रीय मंत्री द्वारा उद्योगपतियों से बाकी कई विषयों पर भी सुझाव लिए। इस दौरान मंत्री के सचिव लोहानी आईएएस भी उपस्थित थे।

इस वफद में विनोद वशिष्ठ, संजय गुप्ता, समीर गोयल, पंकज खेतान, पी मिश्रा, एके भार्गव शामिल थे। इस बारे प्रतिनिधीमंडल में से सुधीर गोयल, संजय गुप्ता व दिल्ली से ए के भार्गव ने बताया कि स्टील उद्योग देश के कुल जीडीपी में 3 से 4 प्रतिशत योगदान देता है और करीबन 20 लाख लोगों को रोज़गार प्रदान करता है। सरकार द्वारा पिछले साल इस उद्योग को खरीद बेच की सुविधा और प्रतिरक्षा के लिए इंडियन कमोडिटी एक्सचेंज (आई सी ई एक्स) में स्थान दिया। परन्तु कुछ गलत तरीके से चलने के कारण यह स्टील उद्योग के लिए सबसे बड़ा संकट बन चुका है। इससे करीबन 30 प्रतिशत व्यापार में मंदी आ गई है। आई सी ई एक्स में फिनिश्ड गुड्स या पक्का माल बेचने की शर्त है परन्तु इसमें व्यापार कच्चे माल का हो रहा है।

वहीं इसमें किये जाने वायदा व्यापार का भुगतान जरूरी न होने के कारण इसमें सट्टेबाज व सटोरिये आ गए हैं जोकि सुबह शाम सट्टाबाजार की तरह इसमें वायदा कारोबार करके सारी इंडस्ट्री को खराब कर जाते हैं। वफद ने मंत्री को बताया कि फिच सॉल्यूशन्स मैक्रो रिसर्च ने 2019 में इस्पात में सारे विश्व मे मंदी के संकेत दिए हैं। अभी उद्योग ने उस स्थिति से भी निपटना है जबकि उद्योग इस वायदा कारोबार से ही परेशान है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस विषय पर पूर्ण सहयोग का भरोसा दिया है। छाहडिया ने कहा कि माननीय मंत्री ने वफद से जी एस टी व बिजली जैसे कई विषयों पर खुल के चर्चा की ओर बाकी विषयों पर सुझाव मांगे हैं ।