Tuesday, January 22, 2019 02:31 AM

तेलंगाना विधानसभा भंग होते ही टीआरएस उम्मीदवारों का एलान

हैदराबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज) : तेलंगाना विधानसभा भंग किए जाने के कई दिनों से लगाए जा रहे कयासों पर चंद्रशेखर राव मंत्रिमंडल की इससे संबंधित सिफारिश राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन के तत्काल स्वीकार कर लेने से गुरुवार को विराम लग गया और चंद्रशेखर राव ने विधान सभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी के 105 उम्मीदवारों की घोषणा भी कर दी। 

राव की अध्यक्षता में आज हुई मंत्रिमंडल की बैठक में विधानसभा भंग करने की सिफारिश करने का एक पंक्ति का प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक के तुरंत बाद राव मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के साथ राजभवन गये और उन्होंने श्री नरसिम्हन को मंत्रिमंडल की सिफारिश की प्रति सौंपी। श्री नरसिम्हन ने त्वरित कार्रवाई करते उसे स्वीकार कर लिया। 

राज्यपाल ने मंत्रिमंडल की सिफारिश मंजूर करते हुए श्री राव और उनकी मंत्रिपरिषद से कार्यवाहक सरकार के रूप में कार्य करते रहने का आग्रह किया जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया। इसके कुछ ही देर बाद आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के राज्यपाल श्री नरसिम्हन के प्रधान सचिव हरप्रीत सिंह ने आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके बताया कि राज्यपाल ने श्री राव और उनकी मंत्रिपरिषद की विधानसभा भंग करने की सिफारिश स्वीकार कर ली है। 

राज्य विधानसभा का कार्यकाल मई 2019 तक था और लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनाव होने की उम्मीद थी। तेलंगाना विधानसभा भंग होने से इसी वर्ष होने वाले मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम विधानसभा चुनावों के साथ राज्य में चुनाव कराने का मार्ग प्रशस्त हो गया। राव ने राजभवन से लौटने के बाद मंत्रियों, वरिष्ठ पार्टी नेताओं और विधायकों के साथ के मुख्यमंत्री शिविर कार्यालय प्रगति भवन में बैठक करके पार्टी की आगे की रणनीति पर चर्चा की। श्री राव ने अपनी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के मुख्यालय तेलंगाना भवन में संवाददाता सम्मेलन में पार्टी के 105 उम्मीदवारों की आज ही घोषणा भी कर दी। 
 

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400043000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।