अमेरिका की अपने नागरिकों को सलाह, पाकिस्तान यात्रा से पहले दोबारा करें विचार 

वाशिंगटन (उत्तम हिन्दू न्यूज): अमेरिका ने अपने नागरिकों को आतंकवाद के मद्देनजर पाकिस्तान की यात्रा की अपनी योजना पर पुनर्विचार करने की सलाह दी है और उनसे अशांत बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा एवं पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को आतंकवादी हमलों के कारण सबसे खतरनाक इलाके चिह्नित करते हुए इन स्थानों की यात्रा नहीं करने कहा है।

अमेरिका द्वारा सोमवार को जारी ताजा यात्रा परामर्श में पाकिस्तान को सामान्य रूप से ‘स्तर तीन’ की श्रेणी में रखा गया है लेकिन बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा प्रांत, पीओके और भारत-पाकिस्तान सीमा समेत देश के कई हिस्सों को सबसे खतरनाक ‘स्तर चार’ श्रेणी में रखा गया है। अमेरिकी नागरिकों को इन स्थानों पर यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है।

विदेश मंत्रालय ने एक यात्रा परामर्श में कहा, ‘पाकिस्तान में और इसके आस पास नागर विमानन परिचालन के लिए खतरों के मद्देनजर संघीय विमानन प्रशासन (एफएए) ने नोटिस टू एयरमैन (नोटैम) और/या विशेष संघीय विमानन नियामक (एसएफएआर) के लिए नोटिस जारी किया है।’

विदेश मंत्रालय ने बताया कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में संभावित हमलों का षड्यंत्र रच रहे हैं। ‘आतंवादियों ने पहले भी अमेरिकी दूतों और राजनयिक संस्थानों को निशाना बनाया है और प्राप्त सूचनाएं बतातीं है कि वे आगे भी ऐसा करना जारी रख सकते हैं।’