फौज की ब्वायज स्पोर्ट्स कंपनी में उभरते खिलाड़ियों के प्रवेश के लिए ऑल इंडिया ओपन चयन ट्रायल 22 फरवरी से

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के लिए ओलंपिक पदक जीतने के लक्ष्य को हासिल करने के लिए फौज़ की ब्वॉयज़  स्पोर्टस कंपनी, मद्रास इंजीनियर ग्रुप और सैंटर बैंगलोर -42 की तरफ से 22 से 25 फरवरी, 2021 तक ब्वॉयज़ स्पोर्टस कंपनी (एम.ई.जी. एंड सैंटर) में प्रवेश के लिये उम्मीदवारों का चयन करने हेतु ऑल इंडिया ओपन चयन रैली करवाई जा रही है।

सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक हॉकी, बॉक्सिंग, तैराकी और सेलिंग खेलों के लिए ट्रायल के.वी. ग्राउंड, एम.ई.जी. और सैंटर, बैंगलोर-42 में करवाए जाएंगे। उम्मीदवारों की आयु सीमा 21 फरवरी, 2021 को 8 से 14 वर्ष के दरमियान होनी जरूरी है और कम-से-कम चैथी कक्षा पास होने के साथ साथ अंग्रेजी और हिंदी भाषा की अपेक्षित जानकारी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि 8 वर्ष के खिलाड़ी की लंबाई 134 सैंटीमीटर और वजऩ 29 किलो होना चाहिए जबकि 9 वर्ष के खिलाड़ी की लंबाई 139 सैंटीमीटर और वजऩ 31 किलो, 10 वर्ष के लिए लंबाई 143 सैंटीमीटर और वजऩ 34 किलो, 11 वर्ष के लिए लंबाई 150 सैंटीमीटर और वजऩ 37 किलो, 12 वर्ष के लिए लंबाई 153 सैंटीमीटर और वजऩ 40 किलो, 13 वर्ष के लिए लंबाई 155 सैंटीमीटर और वजऩ 42 किलो और 14 वर्ष के खिलाड़ी के लिए लंबाई 160 सैंटीमीटर वजऩ 47 किलो होना चाहिए। उम्मीदवार को कौशल टैस्ट और एस.एम.सी. पास करने के बाद आई.क्यू. टैस्ट देना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि चयन ट्रायलों के समय उम्मीदवारों के पास जन्म सर्टीफिकेट, जाति सर्टीफिकेट, शैक्षिक योग्यता सर्टीफिकेट, चरित्र सर्टीफिकेट, रिहायशी/निवास प्रमाण पत्र, अगर हो तो जि़ला और इससे अतिरिक्त स्तर के खेल में भाग लेने सम्बन्धी सर्टीफिकेट की वास्तविक कॉपी और आधार कार्ड समेत छह रंगीन फोटो (एक दादा-दादी के साथ और एक माता-पिता के साथ साझी) होनी चाहिये।

प्रवक्ता ने कहा कि किसी उम्मीदवार के शरीर के किसी हिस्से पर स्थायी टैटू बना होने की सूरत में ऐसे उम्मीदवारों को प्रवेश होने की अनुमति नहीं दी जायेगी। इच्छुक उम्मीदवार 22 फरवरी, 2021 को प्रात:काल 9:00 बजे के.वी. ग्राउंड में प्रीज़ाईडिंग अधिकारी, चयन ट्रायल को रिपोर्ट करने और अन्य ज्यादा जानकारी के लिए कमांडिंग अधिकारी के साथ 080 -25573987 पर संपर्क कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि मैडीकल फिटनेस की जांच एम.ई.जी. और सैंटर के मैडीकल अधिकारी और ए.एम.सी. के माहिर की तरफ से जायेगी। यह चयन आर्मी मुख्यालय/स्पोर्टस अथॉरटी ऑफ इंडिया की तरफ से मंजूर किये जाने तक अंतरिम रहेगा। उन्होंने कहा कि ब्वॉयज़ स्पोर्टस कंपनी में निर्धारित खेल में चयनित उम्मीदवारों को उसी खेल के आगे प्रशिक्षण के लिए किसी अन्य ब्वॉयज़ स्पोर्टस कंपनी में तबदील किया जा सकता है।

प्रवक्ता ने बताया कि चयनित उम्मीदवारों को ब्वॉयज़ स्पोर्टस कंपनी (एम.ई.जी. एंड सैंटर) में 7वीं से 10वीं कक्षा तक शैक्षिक प्रशिक्षण अंग्रेजी माध्यम में मुफ्त दिया जायेगा। इसके अलावा स्पोर्टस अथॉरिटी ऑफ इंडिया/आर्मी के कोचों की तरफ से बॉक्सिंग, हॉकी, तैराकी और सेलिंग की कोचिंग भी दी जायेगी। 10वीं कक्षा की परीक्षा पास करने के उपरांत उम्मीदवारों को आर्मी में प्रवेश के लिये निर्धारित चयन प्रक्रिया में से गुजरना होगा। 10वीं कक्षा पास करने और 17 वर्ष और 6 महीनेे की आयु होने के उपरांत खेल कैडिटों के लिए आर्मी में भर्ती के लिए चयन प्रक्रिया में से गुजरना और मद्रास इंजीनियर ग्रुप में प्रवेश होना लाजिमी है। किसी भी कारण से आर्मी में भर्ती होने में असफल रहने की स्थिति में ऐसे उम्मीदवारों के माता-पिता, बच्चों एवं सरकार की तरफ से किये खर्च की अदायगी के लिए पाबंद होंगे।