बिलों पर अकाली दल की चुप्पी कोई बड़ी साजि़श: सुनील जाखड़

चंडीगढ़ (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा है कि विधानसभा में पारित बिलों को पर अकाली दल की चुप्पी बड़ी सियासी साजि़श का हिस्सा है और इसके पीछे भाजपा के साथ कोई सियासी साठगाँठ लगती है।
जाखड़ ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब की आर्थिकता की रीढ़ की हड्डी किसानी को बचाने और संघीय ढांचे को बनाए रखने के लिए पंजाब विधानसभा में बिल लाकर इतिहास रचा है और कांग्रेस के साथ-साथ दूसरे राज्यों की ग़ैर भाजपा या भाजपा की सहयोगी पार्टियों की सरकारों को भी रास्ता दिखाया है। ये सरकारें भी पंजाब के नक्शे-कदम पर चलते हुए अपनी विधानसभाओं में ऐसे बिल ला सकती हैं।

उन्होंने आम आदमी पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आप पार्टी ने पहले तो विधानसभा में इन बिलों का खुलकर समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री की प्रशंसा की और बाद में इसके कानूनी आधार पर शोर मचा दिया । पहले अकाली दल तीन महीने तक इन केंद्रीय खेती बिलों का गुणगान करता रहा और पंजाब में अपना आधार बचाने के लिये कृषि कानूनों को घातक बताने लगा। उन्होंने कहा कि पंजाब विधानसभा में भाजपा के दो सदस्यों ने अनुपस्थित रहकर सुनहरी मौका गंवा लिया ।