अगुस्टा वेस्टलैंड केस : अभी CBI कस्टडी में रहेंगे मिशेल, इटैलियन वकील से मिलने की अनुमति नहीं

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर डील मामले में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल जेम्स (57) की कस्टडी चार दिन के लिए फिर से बढ़ा दी है। आपको बता दें कि सीबीआई ने विशेष अदालत से मिशेल की कस्टडी पांच दिन बढ़ाने की मांग की थी लेकिन कोर्ट ने कस्टडी में चार दिनों का इजाफा किया है। 

उधर, मिशेल को सीबीआई कोर्ट में पेश करने से पहले उनके वकील ए.के.जोसेफ पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए लेकिन क्रिश्चियन मिशेल जेम्स के इटैलियन वकील रोजमैरी पैटरिजी को मिशेल से नहीं मिलने दिया गया। न ही उन्हें आगे मिलने की अनुमति दी गयी। 

उन्होंने मिशेल की इटैलियन वकील रोजमैरी पैटरिजी को पावर ऑफ अटॉर्नी देने की मांग की ताकि वह उनके खिलाफ जारी रेड कॉर्नर नोटिस को वापस लेने के लिए इंटरपोल में उनका प्रतिनिधित्व कर सकें। उन्होंने कोर्ट को बताया कि रेड कॉर्नर नोटिस को वापस लेना इसलिए जरूरी है क्योंकि मिशेल का प्रत्र्यपण पहले ही हो चुका है। 

उन्होंने मिशेल से मिलने की मांग की जिसे पटियाला हाउस कोर्ट ने खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि रोजमैरी और जोसेफ सीबीआई कस्टडी में मिशेल से नहीं मिल सकते। वहीं, रोजमैरी ने कोर्ट को बताया कि उनके पास मामले से जुड़े कुछ और दस्तावेज हैं जो वह कोर्ट में जमा कराना चाहती हैं। 

उल्लेखनीय है कि मिशेल को 4 दिसंबर को प्रत्यर्पण के बाद दुबई से भारत लाया गया था। 6 दिसंबर को कोर्ट ने सुनवाई के दौरान मिशेल को सीबीआई कस्टडी में भेज दिया था। मिशेल के भारत आने के बाद से ही बीजेपी और कांग्रेस के नेता एक दूसरे पर हमलावर नजर आ रहे हैं। 

Related Stories: