काबुल विश्वविद्यालय के बाहर धमाके में 9 की मौत, 33 घायल

काबुल (उत्तम हिन्दू न्यूज): काबुल विश्वविद्यालय के एक गेट के पास शुक्रवार को विस्फोटकों से भरी कार में सवार एक आत्मघाती हमलावर के खुद को उड़ा लिया। इस नौ लोगों की मौत हो गई और 33 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

काबुल के पुलिस प्रवक्ता फिरदोस फरामर्ज ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, "काबुल विश्वविद्यालय के दक्षिणी गेट पर स्थानीय समयानुसार सुबह 07.10 बजे एक बम फटा। उस समय कई छात्र परीक्षा देने के लिए एकत्रित हुए थे।"

सार्वजनिक स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता वाहिद मेयर ने एफे न्यूज को मरने वालों की संख्या बताई है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि घायलों को अस्पताल लेकर जाया गया है। उनका इलाज चल रहा है। 

प्रारंभिक जांच का हवाला देते हुए आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि इस्तेमाल किया गया बम टोयोटा कोरोला कार से जुड़ा एक इंप्रोवाइज्ड विस्फोटक उपकरण था। मंत्रालय ने बताया कि मरने वालों में एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी है। फरामर्ज ने कहा कि पुलिस सर्तक थी और उसे काबुल में संभावित कार विस्फोट के बारे में एक खुफिया सूचना मिली थी। विस्फोट में दो कारें भी नष्ट हो गईं।

तालिबान ने गुरुवार को दक्षिणी कंधार प्रांत के एक पुलिस स्टेशन पर हुए जानलेवा हमले की जिम्मेदारी का दावा किया है। इसमें 12 लोग मारे गए थे और 90 से अधिक अन्य घायल हो गए थे।