विश्व मुक्केबाजी में 8 भारतीयों को पहले राउंड में बाई

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम सहित आठ भारतीय मुक्केबाजों को गुरुवार से यहां शुरू हुई 10वीं आईबा महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के लिए पहले राउंड में बाई दी गयी है। इस चैंपियनशिप में शीर्ष वरीय हासिल करने वाली मैरीकॉम एकमात्र भारतीय हैं।

48 किग्रा वर्ग में दूसरे नंबर की मैरीकाॅम को रविवार तक रिंग में उतरने की जरूरत नहीं होगी। मैरीकॉम का कजाखिस्तान की अल्ग्रीम कासेनायेवा और अमेरिका की जाजेल बोबाडिला के बीच प्रारंभिक राउंड के मुकाबले की विजेता से मुकाबला होगा। मंगोलिया की मुक्केबाज़ जागार्लान ओचिराबात को 48 किग्रा वर्ग में शीर्ष वरीयता मिली है।

मैरीकॉम छठे विश्व खिताब के लिए प्रयासरत हैं और भारत की ओर से उन्हें स्वर्ण पदक का पक्का दावेदार माना जा रहा है। मैरीकॉम को मुख्य ड्रा के दूसरे हाफ में रखा गया है। अपने स्वर्ण तक के सफर में मैरीकॉम को दो मुश्किल खिलाड़ियों-उज्बेकिस्तान की जुलासाल सुल्तोनालेविया और उत्तर कोरिया की किम ह्यांग ह्यांग मी से सामना करना होगा। 

मी को भी पहले राउंड में बाई मिली है। एेसे में सेमीफाइनल में मैरीकॉम का सामना मी से ही हो सकता है। मी ने एबीसी कन्फेडरेशन में रजत पदक जीता है। भारत की ओर से रानी पिंकी (51 किग्रा), सोनिया (57), सरिता देवी (60), लवलीना बोगोर्हेन (69), स्वीटी (75) और सीमा पूनिया (81 प्लस) को पहले राउंड में बाई मिली है।

हालांकि मनीषा (54), सिमरनजीत कौर (64) और भाग्यवती काचारी (81) को क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए दो राउंड तक भिड़ंत करनी होगी। इनके मुकाबले मंगलवार से होने हैं।

Related Stories: